JharkhandRanchiSports

झारखंड से भी ओलंपियन तैयार करने में जुटा खेलो इंडिया

  • 8 स्पोर्ट्स इवेंट में 3 सेंटरों को किया गया सेलेक्ट

Ranchi: खेल मंत्रालय (भारत सरकार) ओलंपियन तैयार करने की तैयारी में है. खेलो इंडिया के तहत झारखंड से भी 3 स्पोर्ट्स सेंटरों का सेलेक्शन किया गया है. इन सेंटरों के जरिये 8 खेलों में अब मिशन ओलंपिक को देखते हुए विशेष तैयारी की जायेगी. आर्चरी, एथलेटिक्स, साइक्लिंग, फुटबॉल, जिम्नास्टिक, शूटिंग, स्विमिंग, टेबल टेनिस, वेटलिफ्टिंग औऱ कुश्ती जैसे खेलों में वर्ल्ड क्लास प्लेयर्स तैयार किये जायेंगे.

Jharkhand Rai

साइ (भारतीय खेल प्राधिकरण) ने देशभर में 20 खेलों के लिए अलग अलग सेंटरों को खेलो इंडिया के जरिये और बेहतर करने की योजना बनायी है. हालांकि कोरोना संकट औऱ लॉकडाउन के कारण इस पर काम अभी फंसा हुआ है.

इसे भी पढ़ें – शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की हालत अत्यंत गंभीर, बाहर ले जाने की तैयारी

JSSPS पर जोर

खेलो इंडिया के जरिये सबसे अधिक फायदा जेएसएसपीएस, होटवार (झारखंड स्टेट स्पोर्ट्स प्रमोशन सोसाइटी) को मिलने वाला है. लड़के-लड़कियों के लिए चलने वाले इस आवासीय औऱ ट्रेनिंग सेंटर में आर्चरी, एथलेटिक्स, साइक्लिंग, फुटबॉल, शूटिंग, स्विमिंग, वेटलिफ्टिंग, कुश्ती जैसे खेलों में औऱ बेहतर व्यवस्था की जायेगी.

Samford

इसके अलावे आर्चरी में बिरसा मुंडा आर्चरी अकादमी, सिल्ली औऱ टाटा आर्चरी अकादमी भी शामिल हैं. तीरंदाजी में जेएसएसपीएस, बिरसा मुंडा आर्चरी अकादमी, सिल्ली औऱ टाटा आर्चरी अकादमी में 14-14 खिलाड़ियों को विशेष तौर पर तैयार किया जायेगा.

इसी तरह जेएसएसपीएस में एथलेटिक्स के लिए 32, साइक्लिंग के लिए 8, फुटबॉल के लिए 10, शूटिंग में 14, स्विमिंग में 9, वेटलिफ्टिंग में 17 औऱ कुश्ती में 13 प्लेयर्स को स्पेशल ट्रेनिंग के साथ ओलंपियन बनाये जाने की योजना है.

MoU की तैयारी

जिन सेंटरों को खेलो इंडिया ने सेलेक्ट किया है, उनके साथ साइ एमओयू करेगा. अक्टूबर महीने में उसकी ओर से जेएसएसपीएस को इसके बारे में सूचित किया गया है. जानकारी के अनुसार एक महीने के भीतर राज्य सरकार के साथ एमओयू कर लिया जायेगा.

जेएसएसपीएस को इस एमओयू का एक बड़ा फायदा यह मिलेगा कि होटवार के स्टेडियमों का अधिक से अधिक उपयोग खिलाड़ियों के लिए किया जा सकेगा. मेंटेनेंस के काम में भी राहत मिलेगी.

इसे भी पढ़ें – 95967 मे 88559 मरीज हुए ठीक, मात्र 6576 एक्टिव, रांची व जमशेदपुर छोड़ सभी जिलों में 400 से कम एक्टिव केस

हॉकी के लिए एक भी सेंटर नहीं

फिलहाल साइ ने अपनी लिस्ट में हॉकी के लिए झारखंड से एक भी सेंटर को जगह नहीं दी है. हॉकी के गढ़ में एक भी सेंटर का शामिल नहीं होना दिलचस्प कहा जा रहा है. पर हॉकी झारखंड के प्रमुख भोलानाथ सिंह के अनुसार कुछ दिनों पहले सेंटर से एक टीम आयी थी. रांची सहित देश के 5 शहरों में खेलो इंडिया का सेंटर खोला जाना है. झारखंड में 100 बेड का एक हॉस्टल हॉकी प्लेयर्स को तैयार किये जाने की योजना है. इसे 200 बेड तक किया जायेगा. उम्मीद है कि जल्दी ही इस संबंध में अच्छी सूचना मिलेगी.

खेलो इंडिया से मिशन ओलंपिक की राह

साइ सेंटर, रांची के प्रमुख एस मोहंती के अनुसार खेलो इंडिया के तहत सेलेक्ट सेंटरों को केंद्र से भरपूर मदद मिलती है. खिलाड़ियों को 8 सालों तक लगातार अपनी निगरानी में ऱखकर उनकी पढ़ाई औऱ ट्रेनिंग संबंधी जरूरतों को पूरा करते हुए उन्हें ओलंपियन बनाये जाने का प्रयास होता है. तकरीबन सारा खर्च केंद्र वहन करता है.

इसे भी पढ़ें – बिहार चुनाव : जानिए नीतीश-भाजपा के हमलों से आहत चिराग ने क्यों कहा, पीएम मोदी को धर्मसंकट में नहीं डालना चाहते… 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: