BiharCrime News

कटिहार: हाटेबाजारे एक्सप्रेस सोना लूटकांड का खुलासा, स्वर्ण व्यवसायी का भाई ही निकला मुख्य आरोपी

Katihar: जिले में पिछले दिनों चलती ट्रेन में कारोबारी से दो करोड़ के सोना की लूट मामले का कटिहार रेल पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर लिया है. लूटकांड को अंजाम देने वाला कोई और नहीं बल्कि उसका भाई निकला है. स्वर्ण कारोबारी का चचेरा भाई ही लूटकांड का मुख्य लाइनर था. पुलिस ने स्वर्ण कारोबारी के चचेरे भाई समेत 6 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने गिरफ्तार अपराधियों के पास से 20 लाख कैश समेत अन्य सामानों को बरामद किया है.

दरअसल, बीते 25 जून को बदमाशों ने हाटेबाजारे एक्सप्रेस ट्रेन में लूट की बड़ी वारदात को अंजाम दिया था. भागलपुर के नवगछिया स्थित काढ़ागोला और बखरी स्टेशन के बीच अपराधियों ने चलती ट्रेन में मधेपुरा के स्वर्ण कारोबारी पारस मणि से करीब ढाई किलो सोना लूट लिया था. स्वर्ण कारोबारी कोलकाता से सोना खरीदकर सहरसा लेकर जा रहा था. इसी दौरान अपराधियों ने सोने से भरा बैग लूट लिया और फायरिंग करते हुए मौके से फरार हो गए थे.

इसे भी पढ़ें:6 साल के विवान शौर्या ने मनवाया प्रतिभा का लोहा, 129 पेंटिंग्स बनाकर India Book of Records में दर्ज कराया अपना नाम

Catalyst IAS
ram janam hospital

गिरफ्तार अपराधियों के पास से रेल पुलिस ने 20 लाख 50 हजार कैश, कुछ नेपाली करेंसी, 450 ग्राम सोना, मोबाइल और लूट में इस्तेमाल की गई बाइक को भी जब्त किया है. कटिहार रेल एसपी ने बताया कि लूटकांड का मामला नवगछिया रेल थाने में दर्ज किया गया था और कटिहार रेल पुलिस ने इस सोना लूटकांड को एक चुनौती के रूप में लिया था.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

रेल एसपी ने बताया कि मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी की टीम ने पूरे मामले का खुलासा किया है. हालांकि वारदात में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी और शेष सोना की बरामदगी के लिए छापेमारी तेज कर दी गई है. रेल एसपी ने बताया कि इस लूटकांड में कारोबारी के चचेरे भाई, जो ज्वेलर्स का दुकान चलाता है उसने मुख्य लाइनर की भूमिका निभाई थी. पुलिस ने जल्द ही लूटे गए शेष सोना को बरामद कर लिए जाने का भरोसा दिलाया है.

इसे भी पढ़ें:मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वज्रपात से मौत मामले में मुआवजे की घोषणा की, अबतक 41 लोगों की गई जान

Related Articles

Back to top button