National

कश्मीरी पंडितों को मिलेगी घाटी के हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट में एडमिशन में छूट: HRD

New Delhi: हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट में कश्मीरी विस्थापितों के बच्चों को प्रवेश में मिलने वाली छूट अब घाटी में रह रहे कश्मीरी पंडितों को भी दी जाएगी. मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय के अधिकारियों ने यह जानकारी दी है.

गैर-विस्थापित कश्मीरी पंडितों को भी ये छूट देने के संबंध मे मंत्रालय को कई प्रतिवेदन मिलने के बाद यह फैसला लिया गया.

इसे भी पढ़ें- क्या #PMC की राह पर है दिल्ली नागरिक सहकारी बैंक, SBI से भी ज्यादा 38 फीसदी हुआ NPA

क्या लिया गया निर्णय

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मामले पर विचार किया गया और गृह मंत्रालय व जम्मू-कश्मीर प्रशासन के साथ चर्चा करने के बाद यह निर्णय लिया गया है.

निर्णय किया गया है कि 2020-21 अकादमिक सत्र से देश के अन्य हिस्सों में स्थित उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए जो छूट कश्मीरी विस्थापितों के बच्चों को मिलेगी. वहीं गैर विस्थापित कश्मीरी पंडित या कश्मीरी हिंदू परिवारों के लिए भी दी जायेगी.

इसे भी पढ़ें- सांसद बने छह महीने बीत गये, लेकिन अब तक माननीयों ने आदर्श ग्राम योजना के लिये गांवों का नहीं किया चयन

छूट पाने के लिए निवास स्थान प्रमाण-पत्र दिखाना जरूरी

विद्यार्थियों की दी जाने वाली इन छूटों में कट ऑफ प्रतिशत में 10 फीसदी तक की छूट मिलना बशर्ते वे न्यूनतम अहर्ताएं पूरी करते हों. हर पाठ्यक्रम में प्रवेश क्षमता में पांच प्रतिशत तक की बढ़ोतरी और तकनीकी एवं पेशेवर पाठ्यक्रम कराने वाले संस्थानों में मेरिट कोटा में कम से कम एक सीट आरक्षित रखना शामिल है.

अधिकारी ने कहा कि कश्मीरी विस्थापितों के लिए निवास स्थान प्रमाण-पत्र की जरूरत नहीं होती लेकिन घाटी में रह रहे कश्मीरी पंडितों या कश्मीरी हिंदू परिवारों को ये छूट पाने के लिए निवास स्थान प्रमाण-पत्र दिखाना जरूरी होगा.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: