न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

कांटाटोली फ्लाइओवर: अधिकारियों ने सांसद संजय सेठ से कहा- 2021 तक होगा निर्माण कार्य पूरा

409

Ranchi: रांची के सांसद संजय सेठ ने कांटाटोली फ्लाइओवर की कार्यप्रगति देख कर काफी नाराजगी जतायी है. उन्होंने कहा कि अऩ्य मेट्रो सिटी जैसे मुंबई, दिल्ली सहित पटना, इंदौर शहर में जब छह माह में ही फ्लाइओवर बन जाता है, तो कांटाटोली में बन रहे प्लाइओवर में इतनी देरी क्यों हो रही है.

mi banner add

सांसद संजय सेठ सोमवार को प्लाइओवर कार्य का निरीक्षण करने पहुंचे थे. इस दौरान फ्लाइओवर निर्माण कार्य कर रहे संवेदक मोदी प्रोजेक्ट सहित कई अधिकारी भी उपस्थित थे. कंपनी के अधिकारियों ने इस दौरान साइट क्लीयर नहीं होने की बात करते हुए 2021 तक फ्लाइओवर निर्माण कार्य पूरा होने की बात कही. निरीक्षण के पश्चात सांसद ने कंपनी के ही गार्ड रूम में जुडको, ट्रैफिक सहित मोदी प्रोजेक्ट के पदाधिकारियों के साथ भी एक बैठक की.

इसे भी पढ़ें – जमीन दलाल की फॉर्चूनर, पूर्व ट्रैफिक SP संजय रंजन, सिमडेगा SP और पूर्व DGP डीके पांडेय का क्या है कनेक्शन !

साइट क्लीयर नहीं मिलने से जीरो प्रतिशत हुआ काम

निरीक्षण के दौरान पूछे गये सवाल पर मोदी प्रोजेक्ट के अधिकारियों ने सांसद को बताया कि मुंबई, इंदौर, दिल्ली जैसे शहरों में काम करनेवाले ठेकेदारों को पूरी तरह से साइट क्लियर करके ही काम निर्माण दिया जाता है. ऐसे में वहां पर दिन-रात काम करने में आसानी होती है. लेकिन यहां साइट क्लियर नहीं है. इस कारण यहां रुक-रुक कर काम होता है. इस कारण काम में काफी विलंब होता है.

अधिकारियों की बात से सांसद संतुष्ट नहीं दिखे. उन्होंने कड़े लहजे में कंपनी के पदाधिकारियों से फ्लाइओवर निर्माण पूरा होने की तिथि की जानकारी ली. इस पर कंपनी के पदाधिकारियों ने कहा कि मार्च 2021 तक इस फ्लाइओवर को बना लिया जायेगा. उससे पहले इसे बनाना संभव नहीं दिखता है. क्योंकि अभी तक जितना काम हुआ है, समझ लीजिए वो सारे काम जीरो प्रतिशत के बराबर हैं. अब जाकर पाइपलाइन, बिजली के खंभे, पेट्रोल पंप की अंडरग्राउंड टंकी आदि पूरी तरह से हटाया जा चुका है. इसलिए अब काम तेजी से होगा.

इसे भी पढ़ें – मनी लॉन्ड्रिंग का मामला :  पूर्व आईएएस अधिकारी डॉ प्रदीप कुमार ने ईडी की विशेष अदालत में किया सरेंडर,  जेल भेजे गये

लंबित डिजाइन की जानकारी दें अधिकारी, सचिव से मिल कर अप्रूवल दिलाने की करेंगे पहल

बैठक में अधिकारियों ने कहा कि फ्लाइओवर के संशोधित डिजाइन में पुल की लंबाई 900 मीटर से बढ़ा कर 1200 मीटर की गयी है. लेकिन बनाये गये डिजाइन के अप्रूवल का मामला पथ निर्माण विभाग के पास लंबित है. इस पर सांसद ने कहा कि अगर पथ निर्माण विभाग में मामला लंबे समय तक लंबित रहता है, तो इसकी सूचना उन्हें दी जाये. वे व्यक्तिगत रूप से पथ निर्माण सचिव से मिल कर जल्द से जल्द डिजाइन का अप्रूवल दिलाने की पहल करेंगे.

इसे भी पढ़ें – महागठबंधन बनाने का पक्षधर है जेएमएम, इस माह के अंत तक हो सीटों का बंटवारा: हेमंत सोरेन

15 जून तक पक्का होगा कांटाटोली-कोकर सर्विस रोड

इस दौरान पदाधिकारियों ने सांसद को बताया कि कांटाटोली से कोकर को जानेवाली सर्विस रोड का कालीकरण और कांटाटोली से बहू-बाजार जानेवाली सड़क के बीच वाले भाग को आगामी 15 जून तक पक्का कर लिया जायेगा. सड़कों से गुजरनेवाले वाहनों और लोगों को होने वाली दिक्कतों को देख सांसद ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि यहां पर दिनभर धूल उड़ने से इस सड़क पर चलना काफी दूभर है. कंपनी पानी का छिड़काव नहीं करती है. दिन भर धूल उड़ने के कारण इस सड़क पर चलना दूभर है. इसलिए प्रतिदिन यहां सड़क पर पानी का छिड़काव होना चाहिए. ताकि वाहन चालकों को आवागमन में किसी तरह की परेशानी न हो.

इसे भी पढ़ें – बोकारो: हादसे को आमंत्रित कर रहा है बिजली विभाग का कारनामा, एक ही खंभे में 33 हजार, 11 हजार और 220 वोल्ट के तारों को लगाया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: