Khas-KhabarNational

KanpurShootOut: विकास दुबे के संपर्क में थे चौबेपुर पुलिस थाने के दो दारोगा और एक सिपाही, सस्पेंड

Kanpur: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की खोज में यूपी पुलिस ने अभियान तेज कर दिया है. मामले की जांच में रोज नये खुलासे हो रहे हैं. कानपुर शूटआउट को लेकर फिर एक बड़ा खुलासा हुआ है. खबर है कि चौबेपुर पुलिस थाने के दो दारोगा और एक सिपाही गैंगस्टर दुबे के संपर्क में थे. कॉल डिटेल्स से इस बात की पुष्टि हुई है. जिसके बाद तीनों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है.

मामले के खुलासे के बाद तीनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच शुरू हो गयी है. बता दें कि घटना के बाद से ही चौबेपुर थाना के सभी पुलिसकर्मी शक के घेरे में हैं.

इसे भी पढ़ेंःCoronaUpdate: देश में सात लाख के करीब संक्रमित, लगभग 20 हजार लोगों की मौत

advt

अपनों ने ही दिया धोखा!

8 पुलिस वालों की हत्या के बाद से ही चौबेपुर थाना संदेह के दायरे में है. पुलिस मामले की गहन जांच में जुटी है. वहीं रविवार को विकास दुबे का दाहिना हाथ कहे जानेवाले दयाशंकर अग्निहोत्री को पुलिस ने धर-दबोचा था. उसने भी सनसनीखेज खुलासा करते हुए बताया था कि थाने से ही फोन आया था कि विकास दुबे को पकड़ने पुलिस की टीम जा रही है.

जिसके बाद दुबे ने पुलिसवालों की हत्या की प्लानिंग की. इस खुलासे के बाद बाद पुलिस ने उन पुलिसकर्मियों की तलाश शुरू कर दी थी, जो विकास दुबे के संपर्क में थे. चौबेपुर पुलिस थाने के सभी पुलिसकर्मियों के कॉल डिटेल खंगाले गए. कॉल डिटेल खंगालने के दौरान खुलासा हुआ कि चौबपुर के तीन पुलिसकर्मी विकास दुबे के संपर्क में थे.

इसे भी पढ़ेंःकोरोना को लेकर डराने वाली खबर आयी, वैज्ञानिकों का दावा- हवा से भी फैलता है वायरस

तीन पुलिसवाले सस्पेंड

गैंगस्टर विकास दुबे के संपर्क में चौबेपुर पुलिस थाने के दो दारोगा और एक सिपाही थे. इनकी कॉल डिटेल से खुलासा हुआ है. इसके बाद दारोगा कुंवर पाल और कृष्ण कुमार शर्मा समेत कॉन्स्टेबल राजीव को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया है. और इन तीनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच शुरू हो गई है. बता दें कि इस शूटआउट के बाद से ही चौबेपुर थाने के पुलिसकर्मियों की विकास दुबे से मिलीभगत की जानकारी सामने आई थी.

adv

इधर 8 पुलिसवालों के कातिल विकास दुबे की तलाश में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है. विकास दुबे की संपत्ति और बैंक अकाउंट पर भी यूपी पुलिस की नजर बनी हुई है. लेकिन तीन दिन बाद भी विकास का कोई सुराग नहीं मिला है. मोस्ट वांडेट विकास दुबे के नेपाल भागे जाने की भी बात सामने आ रही है. फिलहाल, यूपी समेत कई राज्यों की पुलिस दुबे की तलाश में है.

इसे भी पढ़ेंःवर्चस्व की लड़ाई में मारा गया हार्डकोर उग्रवादी मोहन यादव, TPC ने ली हत्या की जिम्मेवारी

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button