Crime NewsJamshedpurJharkhand

Jamshedpur : उपायुक्त से मिलने पहुंची कली शर्मा, सदर अस्पताल में गलत इलाज के कारण काटना पड़ा था हाथ, मुआवजा और नौकरी की मांग

Jamshedpur : जमशेदपुर के बागबेड़ा कीताडीह निवासी 16 वर्षीय कली शर्मा को सदर अस्पताल में गलत इलाज के कारण अपना दायां हाथ गवाना पड़ा था. शनिवार को कली अपने परिजनों के साथ उपायुक्त से मिलने पहुंची. कली ने उपायुक्त से उचित मुआवजा, इलाज का खर्च और उचित सरकारी नौकरी की मांग की है. कली आगे पढ़ाई भी करना चाहती है. जिसका पूरा खर्च उसने प्रशासन से वहन करने की भी मांग की है.

बता दें कि जमशेदपुर के परसुडीह थाना इलाके के कीताडीह की 16 वर्षीय कली शर्मा को 21 जुलाई की रात को पेट में असहनीय दर्द उठा था. परिजन उसे तत्काल इलाज के लिए यह सोचकर सदर अस्पताल लेकर गये कि शायद उनकी बेटी के दर्द का इलाज हो सके. तड़के 4 बजे उसे अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां एक नर्स ने उसे दर्द कुछ इंजेक्शन दिये. एक घंटे बाद दर्द कम होने पर उसे अस्पताल से छुट्टी भी मिल गयी. घर जाने पर उसे अहसास हुआ क‍ि उसका दाहिना हाथ जिसपर नर्स ने इंजेक्शन दिया था, काम करना बंद कर चुका है. हाथ में चोट का भी कोई असर नहीं हो रहा है. परिजन तत्काल उसे दोबारा सदर अस्पताल लेकर गए जहां गंभीरता को देखते हुए सिविल सर्जन ने पैरवी पर कली को टीएमएच में भर्ती कराया. यहां उसे जानकारी हुई कि नर्स की लापरवाही से गलत जगह इंजेक्शन दे दिया गया है जिससे हाथ ने काम करना बंद कर दिया है. अगर समय पर सही इलाज नहीं मिला, तो कुछ भी हो सकता है. डॉक्टरों ने उसे तत्काल कोलकाता ले जाने की सलाह दी. किसी तरह परिजन 21 जुलाई को ही कली को इलाज के लिए कोलकाता लेकर गये, पर उसे अस्पताल ले जाने में देरी हो गई. फिर भी अस्पताल में डॉक्टरों ने प्रयास किया और हाथ का ऑपरेशन किया. इसके बावजूद हाथ में इंफेक्शन तेजी से फैलने लगा. अंत में डॉक्टरों को उसका दाहिना हाथ काटना पड़ा.

ये भी पढ़ेमाओवादी संगठन ने दी स्वतंत्रता दिवस के बहिष्कार की धमकी

Sanjeevani

Related Articles

Back to top button