न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बढ़ते अपराध को लेकर डीजीपी से मिला JVM का प्रतिनिधिमंडल

438

हर दिन हो रही आपराधिक वारदात पर जतायी चिंता

mi banner add

अपराधियों के खिलाफ जल्द से जल्द कठोर कदम उठाने की मांग

Bokaro : बोकारो में बढ़ते अपराध को देखते हुए डॉ प्रकाश के नेतृत्व में झारखंड विकास मोर्चा के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को राज्य के डीजीपी डीके पांडेय से मुलाकात की. इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने डीजीपी से अपराधियों के खिलाफ त्वरीत कार्रवाई की मांग की. जेवीएम प्रदेश कार्यसमिति सदस्य डॉ प्रकाश ने डीजीपी से कहा कि बोकारो में बढ़ते अपराध के कारण लोगों में अब सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं. हर दिन लूट, छिनतई और चोरी जैसी घटनाएं बढ़ गयी हैं. इस पर पुलिस ठोस कार्रवाई नहीं कर सकी है, जिस कारण अपराधियों का मनोबल ऊंचा है. शहरवासी अब शाम के बाद अपने घर से निकलने पर कतराने लगे हैं. अपना घर भी छोड़कर कहीं अन्यत्र नहीं जा पा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- PMCH के 400 कर्मचारी गये हड़ताल पर, मरीज पलायन को मजबूर

प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि पॉश इलाके को-ऑपरेटिव कॉलोनी में बनी करोड़ों की बिल्डिंग पर कब्जा जमाने की नीयत से चिकित्सक ने अपने रिश्तेदारों से मिलकर मकान के मालिक भाई और बहन को बंधक बनाकर रखा था, जिसका खुलासा होने के बाद एडीजी अनिल पालटा ने इस अपराध को अपने 28 वर्ष के करियर का सबसे खतरनाक अपराध बताया था.

इसे भी पढ़ें- भाजपा को हराने के लिए महागठबंधन बना लोकसभा-विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे : मेहता

जून माह तक लगभग तीन दर्जन लोगों की हुई हत्या

प्रतिनिधिमंडल ने डीजीपी से कहा कि जिले में इस वर्ष जून माह तक लगभग तीन दर्जन लोगों की हत्या हुई. 14 अगस्त को चास थाना क्षेत्र कालापत्थर में दिलीप रजक नामक युवक की हत्या व बालीडीह में दो युवकों की हत्या, कोनार नदी में दो बहनों की हत्या कर फेंक देने का मामला उदाहरण बनकर रह गया है.

Related Posts

रेल लाइन का निर्माण कार्य जारी, सात दिन में मकान खाली करने का नोटिस, किसानों ने और समय देने की उपायुक्त से गुहार लगायी

भंडारगढा गांव की सड़क बंद होने के कगार पर पहुंच गयी है. रेलवे प्रशासन द्वारा जल्द नयी सड़क का निर्माण नहीं कराया गया तो लोगों तथा छात्र छात्राओं को अस्पताल एवं स्कूल आना-जाना मुश्किल हो जायेगा

इसे भी पढ़ें- 5 बच्चियों को दिल्‍ली में बेचने की थी तैयारी, तस्कर को आरपीएफ ने पकड़ा

डीजीपी से की चार सूत्री मांगें

प्रतिनिधिमंडल ने अपराध पर नकेल कसने को लेकर कड़ा निर्णय लेने, पुलिस को आम जनता के साथ रिश्ते मधुर करने, शहरी क्षेत्रों में लगातार पुलिस पेट्रोलिंग सुनिश्चित करने व विभिन्न घटनाओं का उद्भेदन कर कार्रवाई करने की मांग की गयी. मामले पर डीजीपी ने त्वरीत कार्रवाई का भरोसा दिलाया.

प्रतिनिधिमंडल में ये थे शामिल

प्रतिनिधिमंडल में डॉ. प्रकाश के साथ आदिवासी नेता रामलाल सोरेन, राजीव रंजन, शिबू यादव, रामलाल व बबलू आदि शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.आप हमेंफ़ेसबुकऔर ट्विटरपेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: