Crime News

प्रदीप यादव के बचाव में उतरा जेवीएम, पार्टी के केंद्रीय महासचिव बंधु तिर्की ने कहा- बाबूलाल मरांडी को नहीं दी थी जानकारी

  • 20 अप्रैल को हुई थी घटना, एफआइआर में किया गया है जिक्र- बाबूलाल मरांडी को पूरे मामले से कराया गया था अवगत
  • जेवीएम ने कहा: इस पूरे प्रकरण की जांच किसी स्वतंत्र एजेंसी से करायी जानी चाहिए

Ranchi: जेवीएम विधायक दल के नेता सह गोड्डा से लोकसभा उम्मीदवार प्रदीप यादव के पक्ष में पार्टी पूरी तरह से खड़ी हो गई है. प्रदीप यादव पर पार्टी की केंद्रीय प्रवक्ता रिंकी झा ने यौन उत्पीड़न का मामला देवघर में दर्ज कराया है. इसे पार्टी के केंद्रीय महासचिव बंधु तिर्की ने सिरे से खारिज करते हुए कहा कि यह कॉरपोरेट घराने और भाजपा नीत राज्य सरकार की साजिश है. जबकि प्रमाण यह है कि पार्टी की केंद्रीय प्रवक्ता रिंकी झा ने अपने एफआइआर में उल्लेख किया है कि 21 अप्रैल को घटना की पूरी जानकारी पार्टी सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को दे दी गयी थी. एफआइआर में वाट्सएप चैटिंग का स्क्रीन शॉट भी संलग्न किया गया है.

देखें वीडियो-

इसे भी पढ़ें – आरबीआई ने विदेश में सोना शिफ्ट करने की प्रिंट और सोशल मीडिया की खबरों को खारिज किया

बंधु तिर्की बोले, बाबूलाल को किसी भी तरह की नहीं थी जानकारी

पार्टी के केंद्रीय महासचिव बंधु तिर्की ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि बाबूलाल मरांडी को इस प्रकरण की कोई जानकारी नहीं थी. इस प्रकरण की जांच किसी स्वतंत्र एजेंसी से करायी जानी चाहिए. बंधु ने यह भी कहा कि रिंकी झा पार्टी में केंद्रीय प्रवक्ता थीं. साथ ही हाइकोर्ट में वकील भी. उन्होंने अपनी बात पार्टी फोरम में नहीं रखी. अब 10 दिन चुनाव के बचे हैं, ऐसे समय में गलत आरोप लगाने का घटिया काम किया है. वह महिला कुछ भी कर सकती है.

इसे भी पढ़ें – झूठ बोल रही है कांग्रेस, मेरे कार्यकाल में नहीं हुई कोई सर्जिकल स्ट्राइक : पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह

सारठ से चुनाव लड़ने की इच्छा थी

बंधु तिर्की ने कहा कि रिंकी झा ने सारठ से चुनाव लड़ने की इच्छा जतायी थी. वह वहां से तैयारी भी कर रही थी. लेकिन ऐन वक्त पर प्रदीप यादव ने कद्दावर नेता चुन्ना सिंह को जेवीएम ज्वाइन करा लिया. ऐसे में महिला ने भाजपा के साथ मिल कर साजिश रची.

भाजपा उम्मीदवार निशिकांत दुबे ने घटिया काम कियाः बंधु

बंधु तिर्की ने कहा कि गोड्डा से भाजपा उम्मीदवार निशिकांत दुबे ने घटिया काम किया है. उनका चरित्र, क्रियाकलाप सब कोई जानता है. वह ऐसे व्यक्ति हैं जो कबूतर का खून माथे पर लगा कर कहते हैं कि मुझे मार दिया. हार के डर से भाजपा और कॉरपोरेट घराने ने ऐसा घटिया काम किया है. निशिकांत को सपने में भी प्रदीप यादव का डर सता रहा है. प्रदीप यादव पिछले पांच साल से कॉरपोरेट घरानों के खिलाफ संघर्षरत हैं. इसी संघर्ष के कारण उन्हें पांच माह तक जेल में भी रहना पड़ा.

इसे भी पढ़ें – जमशेदपुरः बदहाली में जी रही सबर जनजाति को किसी दल ने नहीं बनाया चुनाव का मुद्दा

बंधु ने सवाल खड़ा किया, आखिर कौन है वह व्यक्ति

बंध तिर्की ने प्रेस कांफ्रेंस में एक तस्वीर दिखाने हुए कहा कि आखिर थाने में एफआइआर दर्ज कराते समय रिंकी झा के साथ जो व्यक्ति है, वह कौन है. इसकी खोज की जा रही है. वहीं दूसरी तस्वीर को दिखाते हुए कहा कि वह व्यक्ति निशिकांत दुबे के साथ है. जल्द ही इसका खुलासा हो जायेगा. चुनाव के बाद रिंकी झा के खिलाफ पार्टी कार्रवाई करेगी.

इसे भी पढ़ें – सैम पित्रोदा ने कहा, सही समय पर साथ आयेंगे विपक्षी दल, मोदी सरकार को सत्ता से हटाना हमारा मकसद

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close