Corona_UpdatesTOP SLIDER

मात्र एक चम्मच ‘वायरस’ ने पूरी दुनिया के 5.4 करोड़ लोगों को ले लिया अपनी चपेट में

News Wing Desk : कोरोना के कहर से पूरी दुनिया कराह रही है. इस वायरस से लोगों को कब छुटकारा मिलेगा या मिलेगा भी या नहीं, यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है. लेकिन, एक गणितज्ञ ने इतना तो स्पष्ट करने का दावा किया है कि पूरी दुनिया में करोड़ों लोगों को संख्या में महज एक चम्मच भर वायरस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया. जी हां, इस दावे के मुताबिक वैश्विक स्तर पर 5.4 करोड़ से अधिक मरीजों को अपनी गिरफ्त में लेनेवाले सार्स-कोव-2 वायरस की कुल मात्रा एक बड़े चम्मच से बस थोड़ी-सी ही ज्यादा है. यह दावा ऑस्ट्रेलियाई गणितज्ञ मैट पार्कर ने अपने हालिया विश्लेषण के आधार पर किया है.

Jharkhand Rai

पार्कर के मुताबिक, कोरोना वायरस का आकार बेहद सूक्ष्म है. पूरी दुनिया में अभी तक जितने मामले सामने आये हैं, उसके हिसाब से यह माना जा सकता है 8 मिलीलीटर सार्स-कोव-2 वायरस ने पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया है. चूंकि, एक बड़े चम्मच में छह मिलीलीटर तरल पदार्थ समाता है, इसलिए यह कहना गलत न होगा कि दुनियाभर में मौजूद सार्स-कोव-2 वायरस को एक बड़े चम्मच में भी समेटा जा सकता है.

इसे भी पढ़ें- मोमेंटम झारखंडः प्रोडक्शन शुरू होने के पहले कॉटन ब्लॉजम कंपनी का शटर डाउन

मानव कोशिकाओं से 10 लाख गुना छोटा आकार

पार्कर कहते हैं कि सार्स-कोव-2 वायरस का आकार मानव कोशिकाओं से दस लाख गुना छोटा है. यह एक कोड की तरह काम करता है, जो कोशिकाओं में घुसकर वायरस को अपनी संख्या बढ़ाने में सक्षम बनाता है.

Samford

पार्कर ऐसे लगाया अनुमान

द लासेंट जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के आधार पर पार्कर ने प्रत्येक संक्रमित के शरीर में मौजूद सार्स-कोव-2 वायरस की औसत संख्या का आकलन किया. रोजाना तीन लाख नये मामले सामने आने और हर संक्रमित के 14 दिन वायरस से जूझने का अनुमान लगाते हुए यह पता लगाया कि कितनों में वायरस मौजूद है. सभी आंकड़ों के विश्लेषण से मानव आबादी में 33 लाख अरब कोविड-19 कोशिकाएं होने का दावा किया. सूक्ष्म आकार देखते हुए उन्होंने वायरस की मात्रा एक चम्मच के बराबर मानी.

इसे भी पढ़ें- साइबर क्राइम के गढ़ जामताड़ा की ये अच्छी बात नहीं जानते होंगे आप!

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: