JamshedpurJharkhand

जुस्को कर रहा खरकई नदी के बेड का अतिक्रमण, सरयू राय की शिकायत पर जांच में हुई पुष्टि

Jamshedpur :  खरकई नदी के अतिक्रमण मामले की जांच कर रहे जल संसाधन विभाग ने नदी के बेड का अतिक्रमण किये जाने को सत्य पाया है. विधायक सरयू राय की शिकायत के बाद विभाग ने तीन सदस्यीय जांच समिति का गठन किया था. जांच समिति ने आदित्यपुर टॉल ब्रिज के पास खरकई नदी के निचले इलाके में टाटा स्टील यूटिलिटी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (पूर्व में जुस्को) द्वारा अतिक्रमण और निर्माण को सत्य पाया है. टीम अपनी जांच रिपोर्ट मुख्य अभियंता को सौंपेगी. जांच टीम ने इस मामले में अतिक्रमणकर्ता को नोटिस जारी कर जवाब मांगे जाने की अनुशंसा की है. संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर कार्रवाई की जायेगी. ज्ञात हो कि इस मामले में सरयू राय ने पहले ट्वीट कर और बाद में उपायुक्त से शिकायत की थी. शिकायत मिलते ही जल संसाधन विभाग ने त्वरित कार्रवाई करते हुए विभाग के अधीक्षण अभियंता स्तर के तीन अधिकारियों की तकनीकी टीम का गठन किया. टीम में गाजिया बराज के अधीक्षण अभियंता, ईचा डैम के अधीक्षण अभियंता और डिजाइन के कार्यपालक अभियंता शामिल हैं. जांच टीम ने धरातल का गहन मुआयना किया और पाया कि जुस्को द्वारा नदी के कैचमैंट एरिया का अतिक्रमण किया गया है, जो नदी के बहाव को प्रभावित करेगा. यही बात विधायक सरयू राय ने भी कही थी.

जांच रिपोर्ट नहीं मिली है, अतिक्रमण हुआ है तो कार्रवाई होगी : मुख्य अभियंता

विभाग के मुख्य अभियंता प्रदीप नारायण सिंह ने बताया कि टॉल ब्रिज के पास जुस्को की ओर से नदी तट का अतिक्रमण करने की रिपोर्ट कार्यपालक अभियंता से मिली थी. इसकी जांच के लिए अधीक्षण अभियंता स्तर के तीन अधिकारियों की टीम गठित की गयी है. टीम ने जांच पूरी कर ली है, लेकिन अभी रिपोर्ट नहीं सौंपी है. अतिक्रमण की बात सामने आएगी तो जुस्को को नोटिस जारी कर जवाब मांगा जायेगा. संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें – बड़सोल में बैल-बछड़ा लदे ट्रक पकड़ाए, चार गिरफ्तार, जुम्मन मिंया है सरगना

Related Articles

Back to top button