JharkhandRanchi

JSMDC के MD की नियुक्ति व काम-काज पर भाजपा ने उठाये सवाल

Ranchi: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने सोमवार को सीएम हेमंत सोरेन को पत्र लिखा. कहा कि झारखंड राज्य खनिज विकास निगम (जेएसएमडीसी) के स्तर से कई स्तरों पर खामियां दिख रही हैं. जेएसएमडीसी के प्रबंध निदेशक (MD) का पदस्थापन झारखंड हाईकोर्ट द्वारा 11अक्टूबर 2007 को पारित आदेश के खिलाफ है.

कोर्ट ने निर्देश दिए हैं कि निगम के संचालन के लिये इसके एमडी का नियमित पदस्थापन होना चाहिये न कि अस्थाई व्यवस्था के तहत. पर वर्तमान में जेएसएमडीसी के प्रबंध निदेशक का पद प्रधान सचिव, खान एवं भूतत्व विभाग के. श्रीनिवासन के पास अतिरिक्त प्रभार में है.

advt

श्रीनिवासन निगम के सिर्फ एमडी ही नहीं हैं बल्कि अध्यक्ष भी हैं. ऐसे पदस्थापना से न सिर्फ कोर्ट के आदेशों की अवहेलना है बल्कि निगम एवं विभाग के कार्य निष्पादन की तकनीकी खामियां भी सामने आयी हैं. सरकार इस पर एक्शन ले.

इसे भी पढ़ें –RIMS: सेकेंड वेव में खरीदे गये ट्रॉली और बेड होने लगे बर्बाद

नीलामी प्रक्रिया पर सवाल

दीपक प्रकाश के मुताबिक खान एवं भूतत्व विभाग द्वारा पिछले दिनों (अधिसूचना संख्या 02/2021-22) जारी की गयी है. इसमें पश्चिम सिंहभूम जिलान्तर्गत अजिताबुरु खान ब्लॉक की नीलामी निविदा प्रकाशित की गई है. इसके निविदा पत्र को झारखंड राज्य खनिज विकास निगम ने भी खरीदा है.

निगम एवं विभाग की यह विचित्र स्थिति है. एक ही व्यक्ति विभाग के सचिव के नाते निविदा प्रकाशित कराते हैं. साथ ही बतौर निगम के प्रबंध निदेशक नीलामी प्रक्रिया में खान ब्लॉक आवंटन के लिये निविदा पत्र भी खरीदते हैं.

यहां क्रेता और विक्रेता एक ही व्यक्ति है. इतना ही नहीं, खान भूतत्व सचिव के नाते प्राप्त निविदा पत्रों की गोपनीयता भी प्रभावित हो रही है. सचिव द्वारा अपने पद के प्रभाव से विभिन्न गोपनीय निविदा कागजातों का दुरुपयोग भी होने की आशंका है. ऐसे कार्यों की निगरानी जांच कराने से सच्चाई उजागर होगी.

इसे भी पढ़ें –भारतीय फॉर्मा कंपनी ने पेश की कोरोना की दवा

रुके नीलामी प्रक्रिया

दीपक प्रकाश ने कहा कि अजिताबुरु खान ब्लॉक की नीलामी प्रक्रिया पर अविलंब सरकार रोक लगाये. जनहित में न्यायालय के निर्देश के आलोक में निगम में पदस्थापन किया जाए. झारखंड खनिज प्रधान राज्य है. यहां आगे भी विभिन्न खान ब्लॉक की नीलामी होगी. उम्मीद है कि सीएम उनके पत्र की बातों को संज्ञान में लेंगे.

इसे भी पढ़ें –लद्दाख के गांव में घुसे चीनी सैनिक, झंडे-बैनर दिखाये

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: