न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

JPSC : लेक्चरर नियुक्ति घोटाला मामले का जल्द खुलासा कर सकती है सीबीआई, जांच प्रक्रिया पूरी

अभियंता नियुक्ति घोटाला में 18 आरोपियों पर सीबीआई कोर्ट में आरोप तय

58

Ranchi : झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) के 2008 में लेक्चरर नियुक्ति घोटाला मामले में सीबीआई जल्द खुलासा कर सकती है. सीबीआई की ओर से राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में पदस्थापित लेक्चरर्स के प्रमाणपत्रों की जांच प्रक्रिया पूरी कर ली गयी है. जेपीएससी द्वारा लेक्चरर बहाली प्रक्रिया के दौरान 2008 में 745 लेक्चरर पद के लिए जेट परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस बहाली प्रक्रिया में बड़े पैमाने पर धांधली की शिकायत आने के बाद सरकार ने इस परीक्षा की सीबीआई जांच की अनुशंसा की थी. सीबीआई ने 214 लेक्चरर के प्रमाणपत्रों एवं लिखित परीक्षाफल की जांच प्रक्रिया पूरी कर ली है. जल्द ही सीबीआई की ओर से इस मामले में खुलासा किया जायेगा. ज्ञात हो कि बहाली प्रक्रिया के 10 साल बीतने के बाद भी जांच की रिपोर्ट नहीं आने से 2008 में बहाल शिक्षक वर्तमान में विश्वविद्यालयों में योगदान दे रहे हैं तथा वेतनमान का लाभ उठा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- 17 जिलों को अब तक नहीं मिली 14वें वित्त आयोग की राशि, राज्यभर के मुखिया कलमबंद हड़ताल पर

अभियंता नियुक्ति घोटाला मामले में 15 साल बाद सीबीआई ने किया चार्जफ्रेम

इधर, जेपीएससी द्वारा कथित अभियंता नियुक्ति घोटाला (वर्ष 2002 से 2003 तक) मामले में सीबीआई के स्पेशल जज एके मिश्र की अदालत ने 18 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय (चार्जफ्रेम) कर दिया है. इस मामले में गवाहों के बयान छह दिसंबर को सीबीआई की आदालत में दर्ज किये जायेंगे. सुनवाई के दौरान सभी आरोपी आदलत में उपस्थित रहे. ज्ञात हो कि जेपीएससी ने अभियंताओं की नियुक्ति के लिए 2002 में विज्ञापन निकला था. आरोप है कि बहाली प्रक्रिया के दौरान अभ्यर्थियों के प्राप्तांकों पर ओवरराइटिंग कर परीक्षाफल में हेराफेरी कर दी गयी थी. बहाली प्रक्रिया के दौरान अफसरों के रिश्तेदारों का चयन बड़े पैमाने पर किया गया था. जांच के क्रम में तत्कालीन जेपीएससी अध्यक्ष दिलीप प्रसाद समेत अन्य अधिकारियों के खिलाफ सीबीआई ने मामला दर्ज किया था.

इसे भी पढ़ें- राज्य के 70 हजार पारा टीचर गोलबंद: अब आर-पार की लड़ाई, सरकारी आदेश दरकिनार कर 20 से जेल भरो आंदोलन

इन पर हुआ चार्जफ्रेम

पूर्व जेपीएससी अध्यक्ष दिलीप प्रसाद, गोपाल प्रसाद सिंह, राधा गोविंद सिंह नागेश, रवींद कुमार खलखो, मनीराम मुंडा, राजीव रंजन, विक्रम दास, बसंत कुमार मंडल, अमित कुमार सिंह, चंदन कुमार, धनंजय कुमार सिंह, धनकेश्वर नायक, मनोज कुमार सिंह, संजय कुमार मुंडा, राजेश मुंडा, वीरेंद्र करमाली, विनोद कुमार तिग्गा और सुजीत कुमार सिंह.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: