lok sabha election 2019

पत्रकारों ने पूछाः यदि हेमंत ने किया है CNT-SPT का उल्लंघन, तो क्यों नहीं होती कार्रवाई, सीएम देते रहे गोलमोल जवाब

Ad
advt

Ranchi: मुख्यमंत्री रघुवर दास शुक्रवार को पत्रकारों से मुखातिब थे. कहा कि राज्य की सभी 14 लोकसभा सीटों पर एनडीए की जीत सुनिश्चित है. 12 और 19 मई को होनेवाले चुनावों की कैंपेनिंग को देख कर लग रहा है कि 14 सीटें एनडीए और बीजेपी की झोली में आयेगी. इसके अलावा उन्होंने विपक्ष पर जम कर हमला बोला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस और झामुमो ने देश और राज्य को सबसे ज्यादा लूटा है. हर बार की तरह सीएम ने एक बार फिर कहा कि हेमंत सोरेन ने खुलेआम एसपीटी-सीएनटी एक्ट का उल्लंघन किया है. उन्होंने दोनों एक्ट को परिभाषित भी किया. इसपर पत्रकारों ने रघुवर दास से सवाल किया कि अगर हेमंत सोरेन ने सीएनटी-एसपीटी का उल्लंघन किया तो फिर आपकी सरकार हेमंत सोरेन पर कार्रवाई क्यों नहीं करती. इस सवाल पर सीएम पत्रकारों को गोलमोल जवाब देकर उलझाते रहे. पर यह नहीं कहा कि कार्रवाई कब होगी. एक तरह से वो जवाब देने से बच रहे थे.

देखें वीडियो-

advt

इसे भी पढ़ें – 15 अगस्त तक टली अयोध्या मामले की सुनवाई, मध्यस्थता के लिए SC ने दिया और तीन महीने का वक्त

शराब पिला कर जमीन हथिया ली

पत्रकारों ने एक बार नहीं बल्कि कई बार उस सवाल को दोहराया. लेकिन वो सिर्फ इतना कहते रहे कि पहले हेमंत सोरेन से पूछो कि उन्होंने सीएनटी और एसपीटी का उल्लंघन किया है या नहीं. कहा कि कैसे आदिवासी होने के बावजूद धनबाद, बोकारो, दुमका और रांची में जमीन ली. उन्होंने हेमंत पर सीधा आरोप लगाया कि जब वो दुमका में विधायक थे, तो वहां आदिवासी की जमीन खरीदी. बरहेट से विधायक हुए तो वहां भी जमीन ली. उन्होंने यहां तक कहा कि रांची में जलदू उरांव को शराब पिला कर उससे हेमंत सोरेन ने जमीन हथिया ली और उसपर सोहराय भवन बना लिया. रघुवर दास ने अपना उदाहरण भी दिया, कहा कि मैं 1995 से विधायक हूं, लेकिन बाप-दादा की जमीन के अलावा मेरे पास कहीं कोई जमीन नहीं है. लेकिन उनकी सरकार कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है, इसपर कुछ नहीं कहा. बस बातों को घुमाते रहे.

advt

इसे भी पढ़ें – मायावती का पीएम पर पलटवारः जन्म से OBC नहीं प्रधानमंत्री मोदी, जाति के नाम पर कर रहे राजनीति

55-60 साल पहले भी गरीबी और अब भी गरीबी के नारे के साथ ही कांग्रेस लड़ रही चुनाव

मुख्यमंत्री ने कहा कि 55 से 60 सालों तक कांग्रेस ने राज किया. कांग्रेस राजतंत्र स्थापित करना चाहती है. पर भाजपा लोकतंत्र नहीं हटने देगी. उन्होंने कहा कि 1971 में कांग्रेस गरीबी हटाओ का नारा देकर सत्ता में आयी थी. आज भी गरीबों के साथ न्याय के नारे पर चुनाव लड़ रही है, पर जनता समझ चुकी है कि कांग्रेस ने जनता के साथ अभी तक अन्याय ही किया है. उन्होंने कहा कि हजारों सिखों के साथ कत्लेआम किया. कत्लेआम में शामिल बड़े नेताओं को भाजपा के शासन में ही दंडित किया गया. उन्हेांने कांग्रेस से पत्रकारों के माध्यम से पूछा कि सिखों के साथ कैसा न्याय किया ये जनता को बता दीजिए.

इसे भी पढे़ं – भाजपा व्यक्ति केंद्रित नहीं,  विचारधारा आधारित पार्टी है, सिर्फ मोदी या शाह की पार्टी नहीं है : नितिन गडकरी

विकास और सुशासन राजनीति का केंद्र बिंदु बन गया है

सीएम ने कहा कि विकास और सुशासन राजनीति का केंद्र बिंदु बन गया है. आजादी के 67 सालों के बाद भी योजना शराफत से लागू नहीं हो पाती थी. नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पारदर्शी शासन के कारण गरीबों के लिए लागू योजना सीधे गरीबों तक पहुंच रही है. उन्होंने महागठबंधन पर एक बार फिर निशाना साधते हुए कहा कि महागठबंधन भ्रष्टाचार में डूबा हुआ और स्वार्थी लोगों का गठबंधन है. न तो नेता हैं, न ही एकता है, न ही कोई नीति है इसलिए देश की जनता फिर से एक बार स्थिर सरकार देगी. स्थिर सरकार के कारण ही देश के साथ-साथ झारखंड भी विकास के पथ पर अग्रसर है.

इसे भी पढ़ें – टाइम मैग्जीन के कवर पर पीएम मोदी की फोटो, लिखा, इंडियाज डिवाइडर इन चीफ

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: