DhanbadJharkhand

अशर्फी अस्पताल की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहा पत्रकार, मैनेज करने में लगा प्रबंधन

Dhanbad : कई बार अस्पताल की लापरवाही की से मरीज की जान पर बन आती है. धनबाद से ही ऐसा मामला सामने आया है. वहां के अशर्फी अस्पताल में कतरास के पत्रकार अमर चक्रवर्ती का दो फरवरी को पथरी का ऑपरेशन हुआ. अमर की हालत में भी सुधार था तो डॉक्टरों ने चार फरवरी को छुट्टी देने की बात भी कही थी. लेकिन ठीक एक दिन पहले ही नर्स ने अमर को गलत इंजेक्शन लगा दिया, जिससे अमर की हालत बिगड़ गयी और वह कोमा में चला गया. अस्पताल प्रबंधन ने खुद को बचाने के लिये नर्स को गायब कर दिया, लेकिन जब परिजनों ने अस्पताल पर दबाव बनाना शुरु किया. तो अस्पताल की ओर से लगातार अमर को दूसरे अस्पताल रेफर करने का प्रयास किया जाने लगा. ताकि अस्पताल किसी भी झमेले से बच जाए.

पत्रकारों का एक प्रतिनिधिमंडल पहुंचा

अस्पताल अमर इस वक्त कोमा में है और उसका हाल जानने के साथ ही अस्पताल प्रबंधन से बात करने के लिए पत्रकारों का एक प्रतिनिधिमंडल अस्पताल पहुंचा. वरिष्ठ पत्रकार संजीव झा के नेत्रृत्व में जिले के कई क्षेत्रों से आये पत्रकारों ने प्रबंधन से बात की. वहीं काफी जद्दोजहद के बाद प्रबंधन ने अमर के लिये हर बेहतर इलाज की सुविधा देने का आश्वासन दिया. साथ ही प्रबंधन ने कहा कि अब ये केस न्यूरो का है और हमारे यहां बेहतर सुविधा उपलब्ध नहीं है. इसलिए अस्पताल के डॉक्टर की निगरानी और प्रबंधन की जिम्मेदारी में अमर को बड़े अस्पताल ले जाया जायेगा. इसके अलावा प्रबंधन की ओर से यह भी कहा गया कि इस पूरे इलाज में जो भी खर्च आयेगा, उसे अशर्फी अस्पताल प्रबंधन वहन करेगी. वार्ता में शामिल पत्रकारों में संजीव झा, पंकज सिन्हा, श्रीकांत श्रीवास्तव, उत्तम मुखर्जी, राजकुमार मंडल, अमित सिन्हा एवं अन्य थे.

इसे भी पढ़ें – धार्मिक स्थलों को होल्डिंग नबंर देगा निगम, 1.70 लाख हाउस होल्डर्स रजिस्टर्ड हैं

advt

इसे भी पढ़ें – स्कूल की शिक्षिका पर बाइक सवार युवकों ने फेंका एसिड, एडमिट

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button