World

पत्रकार जमाल खशोगी हत्याकांड : अमेरिका ने सऊदी अरब के 17 नागरिकों पर प्रतिबंध लगाया

Washington : अमेरिका ने गुरुवार को पत्रकार जमाल खशोगी की नृशंस हत्या में कथित रूप से संलिप्तता रखने वाले सऊदी अरब के 17 नागरिकों पर गंभीर मानवाधिकार उल्लंघन के आरोप में प्रतिबंध लगा दिया है. बता दें कि खशेागी की तुर्की के इस्तांबुल में स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में पिछले दिनों हत्या कर दी गयी थी. खबरों के अनुसार अमेरिका द्वारा सऊद अल कहतानी, माहेर मुतरीब, सऊदी अरब के महावाणिज्य दूत मोहम्मद अल उतैबी और एक ऑपरेशन दल के 14 अन्य सदस्यों पर प्रतिबंध लगाये हैं. अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने गुरुवार को साफ किया कि यह कार्रवाई शासकीय आदेश13818 के तहत की गयी है. जिससे ग्लोबल मैगनीटस्काई ह्यूमन राइट्स अकाउंटीबिलिटी एक्ट लागू होता है. जानकारी के अनुसार ग्लोबल मैगनीटस्काई ह्यूमन राइट्स अकाउंटिबिलिटी एक्ट अमेरिका को यह अधिकार देता है कि वह दुनिया भर में मानवाधिकारों की रक्षा करने और उन्हें बढ़ावा देने व भ्रष्टाचार का मुकाबला करने के लिए अहम कदम उठा सकता है.

इसे भी पढ़ें :  कांग्रेस का आरोप,  PM मोदी ने बढ़ाया राफेल का बेंचमार्क प्राइज, चोर दरवाजे से सौदा बदल दिया

advt

खशोगी की हत्या के समय ये शाही दरबार में पद पर थे

सऊदी अरब के इन 17 नागरिकों पर प्रतिबंध के तहत अमेरिकी अधिकार क्षेत्र में मौजूद संपत्ति के लेन-देन पर रोक लगा दी गयी है. साथ ही अमेरिकी लोगों को उनके साथ कोई भी लेन देन करने से रोक दिया गया है. पोंपियो ने कहा कि खशोगी की हत़्या के समय इन व्यक्तियों के पास शाही दरबार (रॉयल कोर्ट) में पद थे और सऊदी अरब सरकार में मंत्रालय थे. इस क्रम में वित्त मंत्री स्टीवन मनुचिन ने कहा कि हमने सऊदी अरब के जिन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाये हैं वे खशोगी की हत्या में शामिल रहे हैं. बता दें तुर्की के एक शीर्ष अभियोजक ने बुधवार को कहा कि इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी के प्रवेश करने के साथ ही गला घोंटकर उनकी हत्या कर दी गयी थी और उनके शव के टुकड़े-टुकड़े किये गये थे.

यह बयान किसी तुर्की अधिकारी द्वारा की गयी पहली सार्वजनिक पुष्टि है कि खशोगी को गला घोंटकर मारा गया था और उनके शरीर के टुकड़े कर दिये गये थे. यह घोषणा सऊदी अरब के मुख्य अभियोजक सऊद अल-मोजेब के इस्तांबुल के तीन दिवसीय दौरे के बाद की गयी थी.

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close