न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जुडको नहीं करेगी रांची शहर में विकास का काम,आरएमसी बोर्ड की बैठक में मिली मंजूरी

61

निगम और सरकार के बीच तकरार के आसार

Ranchi :  नगर विकास विभाग की एजेंसी झारखंड अरबन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (जुडको) अब राजधानी में किसी तरह का कोई विकास कार्य नहीं करेगी. रांची नगर निगम की बुधवार को सभागार में आयोजित बोर्ड की बैठक में इस बात के प्रस्ताव पर मुहर लग गयी है. अब शहर में जितने में भी सौंदर्यीकरण कार्य किए जायेंगे. वह सभी अब निगम अपने स्तर से करेगा. यह प्रस्ताव जल्द ही सरकार के पास भेजा जायेगा. बोर्ड बैठक के इस प्रस्ताव के बाद निगम और सरकार के बीच तकरार बढ़ने के भी आसार बढ़ गये हैं, क्योंकि जुडको नगर विकास विभाग की एक प्रमुख एजेंसी है. मेयर आशा लकड़ा ने मीडिया से अपने बातचीत में कहा है कि, शहर के विकास और सौंदर्यीकरण कार्य का जिम्मा अब नगर निगम को दिया जायेगा. जुड़को के निर्माण के बाद से ही विकास से जुड़े कई कार्यों को निगम से वंचित रखा गया था. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. बोर्ड बैठक में डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय, नगर आयुक्त मनोज कुमार, अपर नगर आयुक्त गिरजा शंकर प्रसाद समेत वार्ड पार्षद उपस्थित थे.

सरकार व निगम का आमने-सामने आना तय

जुडको द्वारा अब किसी तरह के कोई कार्य नहीं दिए जाने का मुद्दा जैसे ही निगम बोर्ड में आया. सभी पार्षदों ने इसका स्वागत किया. हालांकि निगम बोर्ड के इस फैसले से एक बात सरकार और निगम के बीच तनाव भी बढ़ना तय है. ऐसा इसलिए कि, क्योंकि हाल के दिनों में राजधानी में जुडको कई विकास कार्यों को अंजाम दे रहा है. मालूम हो कि, राजधानी में इन दिनों रविंद्र भवन, हरमू नदी सौंदर्यीकरण कार्य, कांटाटोली प्लाइओवर का कार्य जुड़को कर रहा है. अब जबकि निगम बोर्ड बैठक से यह प्रस्ताव पास हो गया है, तो ऐसे में सरकार व निगम का आमने-सामने आना तय है.

इंजीनियरों के सेवा विस्तार पर अकेली पड़ीं वार्ड 19 की पार्षद रोशनी खलखो

निगम के दो सहायक इंजीनियरों की सेवा अवधि बढ़ाने को लेकर बोर्ड बैठक में पार्षदों ने जमकर हंगामा किया. इन दो सहायक इंजीनियर का नाम एचके सिंह और अनिल कुमार सिंह है. बैठक में वार्ड 10 पार्षद अर्जुन यादव ने कहा कि, पहले ही बोर्ड बैठक में यह निर्णय लिया जा चूका है कि अब से किसी भी सेवानिवृत्त कर्मचारी या पदाधिकारी की सेवा अवधि में विस्तार नहीं किया जायेगा. तो क्यों नियम को अनदेखी कर इन दो सहायक इंजीनियरों की सेवा अवधि को बढ़ाने का मुद्दा बैठक में लाया गया. हालांकि इस दौरान वार्ड 19 की पार्षद रोशनी खलखो ने इनके सेवा अवधि बढ़ाने को लेकर आवाज उठाती रहीं. लेकिन कई पार्षदों ने उनके मांग का समर्थन नहीं किया.

बनेगा फुटबॉल ग्राउंड, लगेगी जयपाल सिंह की प्रतिमा

बैठक में जयपाल सिंह स्टेडियम के सौंदर्यीकरण योजना को भी मंजूरी दी गयी. मेयर आशा लकड़ा ने बताया कि, बोर्ड में यह निर्णय लिया गया है कि, जयपाल सिंह स्टेडियम में फुटबॉल ग्राउंड का निर्माण कराया जायेगा. ऐसा होने पर लोग यहां पैदल टहल सकेंगे. इसके लिए पाथ-वे और स्टेडियम में प्रवेश करने के रास्ते पर जयपाल सिंह मुंडा की एक बड़ी प्रतिमा लगायी जायेगी.

हर वार्ड में करवायी जायेगी पांच-पांच एचवाइडीटी

मेयर ने कहा कि अगले चार माह बाद राजधानी में गर्मी का मौसम आ जायेगा. ऐसे में होने वाले जल संकट के लिए अभी से पहल करने जरूरत है. इसी देखते हुए हर वार्ड में पांच-पांच एचवाइडीटी कराने का निर्णय बोर्ड बैठक में लिया गया. पानी की कमी देखते हुए यह एचवाइडीटी शहर में सूखाग्रस्त क्षेत्रों में लगाया जायेगा, ताकि इलाके के लोगों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो.

लगेंगे स्टील के डस्टबीन, तालाब सफाई पर रहेगा जोर

डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने कहा कि शहर में गली मोहल्लों में कचरे का ढेर न लगे. इसके लिए गलियों में अब स्टील के डस्टबीन लगाये जायेंगे. इसके अलावा हर वार्ड में सफाई कार्य को बेहतर करने के लिए 5-5 हैंड ट्रॉली सफाई कर्मचारी दिए जायेंगे. वहीं शहरों में स्थित तालाबों की सफाई का मुद्दा भी बैठक में जोर-शोर से छाया रहा. इस दौरान तालाबों की सफाई के लिए ट्रैस स्किमर खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी. साथ ही नालियों के सफाई के लिए पे-लोडर खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी.

इसे भी पढ़ें : सीबीआई का दुरुपयोग कर बंधु तिर्की को किया गया गिरफ्तार, कोलेबिरा उपचुनाव को प्रभावित करने के लिए…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: