न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Sci&Tech: तीन साल में ‘स्टेम’ क्षेत्रों में नौकरियां 44 प्रतिशत बढ़ीं : वेबसाइट इनडीड की रिपोर्ट

1,612

Mumbai : देश में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (स्टेम) से संबंधित नौकरियों में लगातार इजाफा हो रहा है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि नवंबर, 2016 से नवंबर, 2019 के बीच देश में स्टेम संबंधित नौकरियों में 44 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है.

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट इनडीड के आंकड़ों के अनुसार, नौकिरयों की तलाश करने वाले लोगों के लिए स्टेम से संबंधित भूमिका काफी आकर्षक है. पिछले तीन साल में इस क्षेत्र की नौकरियों की मांग बढ़ी है.

आंकड़ों के अनुसार नवंबर, 2016 से नवंबर, 2019 के दौरान इन क्षेत्रों में नौकिरयों में 44 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. नवंबर, 2018 से नवंबर, 2019 के दौरान इनमें नौकरियां पांच प्रतिशत बढ़ी हैं.

इसे भी पढ़ेंः कांग्रेस सांसद शशि थरूर पहुंचे #Jamia_Millia_Islamia, कहा,  CAA अलोकतांत्रिक और संविधान का उल्लंघन है

तीन सालों का अध्ययन किया गया

इस रिपोर्ट को तैयार करने के लिए नवंबर, 2016 से नवंबर, 2019 के दौरान इनडीड प्लेटफॉर्म पर पोस्टिंग और सर्च की गणना की गयी.

Whmart 3/3 – 2/4

इनडीड इंडिया के इंजीनियरिंग प्रमुख और साइट निदेशक वेंकट माचवारापू ने कहा कि पिछले तीन साल के दौरन स्टेम क्षेत्रों में नौकरियों में लगातार वृद्धि हुई है. यह हर्ष का विषय है कि नौकरियां तलाशने वाले इन क्षेत्रों में रुचि दिखा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि विज्ञान और प्रौद्योगिकी के कई क्षेत्रों मसलन रोबोटिक्स, इंटरनेट आफ थिंग्स के आगे बढ़ने से विभिन्न क्षेत्रों में इस तरह की प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रतिभाओं की मांग कायम रहेगी.

इसे भी पढ़ेंः #CM हेमंत सोरेन कारकेड रोककर पहुंचे कुश्ती खिलाड़ी के घर, शिशु आश्रम में बच्चों से भी मिले

इसे भी पढ़ें: धनबाद में आइजी के घर में चोरी, दूसरे दिन मिली जानकारी, मामले की जांच में जुटी पुलिस

 

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like