न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जेएनयू  : यूनिवर्सिटी की कमेटी ने खालिद  के निष्कासन पर लगाई मुहर, कन्हैया भरेगा जुर्माना  

223

NewDelhi : दो साल पूर्व अफजल गुरु की बरसी पर जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी  यानी जेएनयू  में हुए हंगामे को लेकर स्टूडेंट उमर खालिद  को निष्कासन किया गया था और कन्हैया कुमार पर जुर्माना लगाया गया था. खबरों के अनुसार यूनिवर्सिटी की हाई लेवल कमेटी ने उनकी सजा बरकरार रखी है.

जान लें कि यूनिवर्सिटी परिसर में संसद हमले के दोषी अफजल गुरु की फांसी के खिलाफ कार्यक्रम किये जाने को लेकर पैनल ने 2016 में उमर खालिद और दो अन्य छात्रों को निष्कासित कर दिया था. साथ ही छात्रसंघ के तत्कालीन अध्यक्ष कन्हैया पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया था.

 इसे भी पढ़ें-  औरंगजेब के बाद एक और पुलिसकर्मी की हत्या, आतंकवादियों ने अगवा कर मारी गोली

 फैसले के खिलाफ कोर्ट का रुख करेगा उमर खालिद

उमर खालिद ने कमेटी के निर्णय का विरोध करते हुए इसे मानने से इनकार कर दिया है. खालिद ने कहा कि वह इस फैसले के खिलाफ कोर्ट का रुख करेंगे. बता दें कि पांच सदस्यीय पैनल ने अनुशासनात्मक नियमों के उल्लंघन के लिए 13 अन्य छात्रों पर जुर्माना लगाया था. इसके आलेाक में छात्रों ने दिल्ली हाई कोर्ट में गुहार लगाई थी.

कोर्ट ने यूनिवर्सिटी पैनल के फैसले की समीक्षा के लिए मामला अपीलीय न्यायाधिकरण के समक्ष रखने का निर्देश दिया था. सूत्रों के अनुसार  खालिद और कन्हैया के मामले में पैनल ने अपना फैसला बरकरार रखा है.

फरवरी 2016 में कन्हैया, खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य को गिरफ्तार किया गया था

सूत्रेां के अनुसार कुछ छात्रों की जुर्माना राशि कम कर दी गयी है. जेएनयू परिसर में उस दिन राष्ट्रविरोधी नारेबाजी हुई थी,  जिसने पूरे देश में व्यापक बहस को जन्म दिया था. इस  विवादास्पद मामले में देशद्रोह के आरोपों पर फरवरी 2016 में कन्हैया , खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य को गिरफ्तार किया गया था. फिलहाल सभी जमानत पर हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: