JharkhandLead NewsRanchi

सड़क पर उतरा झामुमो, कहा- भाजपा अब सरकार को बदनाम करने पर तुली, जांच एजेंसियों का ले रही है सहारा

सभी जिला मुख्यालयों में प्रदर्शन कर केंद्र की नीतियों का किया विरोध

Ranchi : केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को बदनाम करने के विरोध में सोमवार को रांची सहित पूरे झारखंड के झामुमो कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय में प्रदर्शन किया. साथ ही डीसी कार्यालय का घेराव भी किया. वहीं, राजधानी रांची में भी झामुमो कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय के समक्ष केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. मौके पर झामुमो के केंद्रीय महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ आज हमलोग धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि झारखंड में चुनी हुई हेमंत सोरेन सरकार को केंद्र सरकार जबरन ईडी और सीबीआइ के द्वारा बदनाम कर रही है. उसका पर्दाफाश करने के लिए आज रांची सहित पूरे झारखंड के अलग-अलग जिले में झामुमो कार्यकर्ताओं द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया. उन्होंने कहा कि भाजपा जब राजनीतिक लड़ाई नहीं लड़ सकती है तो अपने सरकारी उपक्रमों का इस्तेमाल कर चुनी हुई सरकार को बदनाम करने की कोशिश करती है. झामुमो ऐसा होने नहीं देगा. हमलोग आगे भी लड़ाई जारी रखेंगे.

इसे भी पढ़ें – साहेबगंज DMO संग भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का फोटो वायरल, बोले दीपक- मेरा कोई संबंध नहीं, फोटोशॉप की हुई है तस्वीर

हेमंत सोरेन सरकार को बदनाम करने की साजिश हो रही हैः मुस्ताक

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

वहीं, रांची जिला अध्यक्ष मुस्ताक आलम ने कहा कि केंद्र सरकार लगातार लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई हेमंत सोरेन सरकार को बदनाम कर रही है. साथ ही गिराने की साजिश रच रही है. केंद्र सरकार अपने केंद्रीय संसाधनों का दुरुपयोग कर रही है. इसके विरोध में झामुमो के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया है. धरना में महुआ माजी, राकेश कुमार सहित कई झामुमो के जिला अध्यक्ष मुस्ताक आलम, झामुमो केंद्रीय सदस्य सुप्रियो भट्टाचार्य, मधु मंसूरी, केंद्रीय सदस्य समनूर मंसूरी, महिला मोर्चा की पूर्व केन्द्रीय अध्यक्ष महुआ माजी, अफरोज आलम, जिला सचिव डॉ हेमलाल मेहता, उपाध्यक्ष अश्विनी शर्मा, बीरू तिर्की, धर्मेन्द्र सिंह, संजय राय, रामशरण तिर्की, डॉ० तालकेश्वर महतो, रौशन सिंह, अरूण वर्मा, शिवनंदन मिश्रा, लालजी रमण, विक्रम सिंह, आफताब आलम, कुडुस अंसारी, कैथरीना तिर्की, आदिल इमाम, परवेज आलम, साजिद कौसर, मंटू लाला, बीरू साहू, जीत गुप्ता, संध्या गुड़िया, नयनतारा उरांव, अजीत नायक, उषा उरांव, रोमा सरकार, लीना वर्मा, मधुकुला देवी, दुर्गावती देवी, सुलचना देवी, सोहेल खान, नागेश्वर महतो, पप्पू, योगेंद्र राम, परमिंदर नामधारी, फरीद खान, विलियम रिचर्ड लकड़ा, अनवर, सकुंतला देवी, आरिफ, मृत्युंजय सिंह, जावेद अख्तर, आशुतोष वर्मा, गुलाम रब्बानी समेत सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे.

The Royal’s
MDLM
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें – पंचायत चुनाव 2022 : रामगढ़ में तीसरे चरण के मतदान को लेकर डिस्पैच सेंटर से सेक्टर दंडाधिकारी व मतदान कर्मी रवाना

Related Articles

Back to top button