न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

35 रुपये किलो प्याज की बिक्री की जेएमएम ने निर्वाचन आयोग से की शिकायत

288
  • कहा- खुदरा बाजार में 70 से 80 रुपये किलो मिलनेवाला प्याज 35 रुपये में देना चुनावी प्रलोभन
  • भाजपा चुनाव प्रभावित करने के लिए ऐसा कर रही

Ranchi: बिस्कोमान की ओर से सस्ते दर पर प्याज बिक्री करने की निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज की गयी. शिकायत झारखंड मुक्ति मोर्चा के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने शनिवार को की.

पत्र में सुप्रियो ने लिखा है कि 22 और 23 नंवबर को शहर के अलग-अलग हिस्सों में सस्ते दर पर प्याज दी जा रही है. जो कि सरकारी नियंत्रणाधीन सहकारी संस्था की ओर से किया जा रहा है.

शहर के अलग-अलग हिस्सों में प्याज 35 रुपये किलो दिये जाने से मतदान प्रभावित होगा. सुप्रियो ने आपत्ति जताते हुए लिखा है कि भारतीय जनता पार्टी जनता को लुभाने के लिए ऐसा कर रही है.

इस पत्र के जरिये सुप्रियो ने लिखा है कि इस मामले में आयोग त्वरित निर्णय लेते हुए कार्रवाई करे. ताकि विधानसभा चुनाव निष्पक्ष, सरकारी प्रभाव मुक्त, प्रलोभन मुक्त पारदर्शी तरीके से हो सके. पत्र निवार्चन आयुक्त के नाम लिखी गयी.

इसे भी पढ़ें – #Dhanbad : निरसा में स्कॉर्पियो से 8 लाख 12 हजार कैश जब्त  

70 से 80 रुपये किलो मिलनेवाला प्याज व्यस्तम इलाकों में 35 रुपये

थोक मंडियों में प्याज 70 से 75 रुपये प्रति किलो बिक रहा है. खुदरा बाजार में इसकी कीमत 70 से 80 रुपये है. ऐसे में सहकारी संस्था की ओर से 35 रुपये किलो में प्याज देना, जनता को प्रलोभन देना है. अपने पत्र में सुप्रियो भट्टाचार्य ने लिखा है कि संस्था की ओर से शहर के व्यावसायिक और व्यस्त इलाकों में ट्रक के ट्रक प्याज बेचे जा रहे हैं.

मतदान होने तक इसी तरह से अलग-अलग हिस्सों में प्याज दिये जायेंगे. उन्होंने अपने पत्र में जिक्र किया है कि प्याज खरीद रही जनता सिर्फ ग्राहक नहीं है, बल्कि प्रबुद्ध मतदाता भी है. ऐसे में चुनाव प्रभावित होने की संभावना है.

Sport House

इसे भी पढ़ें – #Palamu: छतरपुर और हरिहरगंज में सुदेश की जनसभा, पिछड़ी जाति को 27 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा

आयोग बूथ के बाहर भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को देखे

इसके साथ ही बताया गया कि भारत निर्वाचन आयोग को यह भी देखना चाहिए कि भाजपा के नेता और कार्यकर्ता बूथ के बाहर कैंप लगा कर मतदाताओं के बीच नकद आदि वितरण कर मतदान को प्रभावित करते हैं.

रोजमर्रा की जिदंगी में सब्जियों के दाम दिनों दिन बढ़ रहे हैं. ऐसे में जनता के आक्रोश को बदलने के लिए सरकार और सरकारी व्यवस्था लामबंद है. इस स्थिति को सुप्रियो भट्टाचार्य ने सरकार की ओर से मतदाताओं के बीच भ्रम फैलानेवाला और लोकतंत्र के लिए घातक बताया.

इसे भी पढ़ें – #Palamu: पांकी में मुख्यमंत्री ने गिनायीं सरकार की उपलब्धियां, कहा- फिर से सरकार बनने पर बनाये जायेंगे नये अनुमंडल और प्रखंड

Mayfair 2-1-2020
SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like