न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

JMM ने मुख्यमंत्री और सांसद पर लगाया आचार संहिता उल्लंघन का आरोप

सीएम के सरकारी मशीनरी के दुरूप्रयोग और सांसद के भाषण पर जतायी आपत्ति

90
  • कार्रवाई करने के लिए केंद्रीय मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को लिखा पत्र

Ranchi : राज्य के सबसे बड़े विपक्षी दल जेएमएम ने मुख्यमंत्री रघुवर दास, केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा पर आदर्श आचार संहिता उल्लंघन करने का आरोप लगाया है. इस संदर्भ में पार्टी ने केंद्रीय मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिख कर उचित कार्रवाई की मांग की है. पार्टी प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा है कि विगत 10 मार्च को चुनाव तिथि घोषित होने के साथ ही आदर्श आचार संहिता पूरे देश में लगी थी. इसके बाद भी राज्य के मुखिया रघुवर दास ने 11 मार्च को सरकारी वायुयान के द्वारा जमशेदपुर से रांची पहुंचते है. अपने राजनैतिक दल की बैठक में भाग लेते हैं  और चुनाव संबंधित राजनैतिक निर्णय लेते है. यह पूरी प्रक्रिया आदर्श आचार सहिंता का गंभीर उल्लंघन है.

इसे भी पढ़ेंः देश की राजनीति में चौकीदारों का बोलबाला, मोदी, शाह बने चौकीदार, उनके नक्शे कदम पर चले भाजपाई

केवल पीएम का अधिकार, वे करें सरकारी मशीनरी का उपयोग

पार्टी मुख्यालय में रविवार को आयोजित एक प्रेसवार्ता में जेएमएम नेता ने कहा कि आदर्श आचार संहिता लगने के बाद केवल प्रधानमंत्री को ही यह अधिकार है कि वे सरकारी मशीनरी (वायुयान) का उपयोग करें. लेकिन महज 120 घंटे के बाद मुख्यमंत्री ने इसका उल्लंघन किया है. यह सर्वविदित है कि अन्य सभी केंद्रीय मंत्री, राज्यों के मुख्यमंत्री, मंत्री आदि प्रभावी कार्यकाल में इसका उपयोग नहीं कर सकते हैं. एक घटना का जिक्र करते हुए सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि 11 मार्च को रांची आने के अलावा वे पुनः 13 मार्च को सरकारी वायुयान का इस्तेमाल नीजि कार्यक्रम में करते हैं. इस बार मुख्यमंत्री अपने सहयोगी मनीष जायसवाल के साथ पार्टी विधायक जानकी यादव के पुत्री के मांगलिक कार्यक्रम में शामिल होने के हजारीबाग जाते हैं. उसके बाद उसी वायुयान से वे रांची आते हैं.

इसे भी पढ़ेंः खामोश… तेरी महफिल में लेकिन हम न होंगे

जयंत सिन्हा की योग्यता रद्द करने की मांग

जेएमएम ने केंद्रीय मंत्री और हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा पर भी आचार संहिता का उल्लंघन करने की बात कही है. पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि केंद्रीय शिक्षण संस्थान ‘इंडियन इंस्टीबट्यूट ऑफ मैनेजमेंट’ के 16 मार्च को हुए दीक्षांत समारोह में सांसद जयंत सिन्हा ने उपस्थित छात्रों, संस्थान के कर्मचारियों, शिक्षकों से भाजपा के पक्ष में वोट डालने की अपील की, जो कि आदर्श आचार संहिता का घोर उल्लंघन है. इसपर पार्टी ने चुनाव आयुक्त से अपील की है कि गहन जांच कर अविलंब सांसद पर आचार संहिता का उल्लंघन का मुकदमा दर्ज हो. साथ ही उनके चुनाव लड़ने की योग्यता अविलंब रदद किया जाये.

इसे भी पढ़ेंः बिहारः एनडीए में हुआ लोकसभा सीटों का बंटवारा

सुनिश्चित करें, कि आचार संहिता का हो पालन

जेएमएम ने चुनाव आयोग से राज्य सरकार के क्रियाकलापों की गहन समीक्षा कर आदर्श आचार संहिता सुनिश्चित करने की मांग की है. आयोग देखें कि राज्य में इसका सही तरीके से पालन हो, ताकि निष्पक्ष और भयमुक्त माहौल में चुनाव संपन्न कराया जा सके. वहीं पार्टी ने यह सुनिश्चित करने की बात कही है कि सरकारी मशीनरी (वायुयान) का दुरूप्रयोग सत्तारूढ़ दल इस दौरान नहीं करें.

इसे भी पढ़ेंः हॉरर किलिंग: परिजनों ने स्नातक छात्रा की हत्या कर शव को जलाया, पिता गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: