BiharELECTION SPECIAL

जीतन राम मांझी विधानसभा के पहले सत्र के लिए प्रोटेम स्पीकर होंगे, राजभवन में ली शपथ

बिहार विधानसभा के सदस्य जीतन राम मांझी को अध्यक्ष का निर्वाचन होने तक 23 से 24 नवंबर तक के लिए अध्यक्ष पद के कर्तव्यों का पालन करने के लिए नियुक्त किया गया

 Patna :  बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के अध्यक्ष जीतन राम मांझी को गुरुवार को बिहार विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर के रूप में शपथ दिलायी गयी. राज्यपाल फागू चौहान ने राजभवन में मांझी को शपथ दिलायी. राज्यपाल सचिवालय के बयान से यह जानकारी मिली है. बयान के अनुसार, राज्यपाल फागू चौहान ने इमामगंज से विधायक जीतन राम मांझी को विधानसभा के अध्यक्ष पद के कर्तव्यों के निर्वहन हेतु शपथ दिलायी.

इसे भी पढ़ें : बिहार में सरकार बनते ही निकली जूनियर इंजीनियर की बहाली, झारखंड में पांच साल से नो वैकेंसी

मांझी  नये विधायकों को विधानसभा में सदन की सदस्यता की शपथ दिलायेंगे

Catalyst IAS
ram janam hospital

राज्यपाल ने भारत के संविधान द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए बिहार विधानसभा के सदस्य जीतन राम मांझी को अध्यक्ष का निर्वाचन होने तक 23 से 24 नवंबर तक के लिए अध्यक्ष पद के कर्तव्यों का पालन करने के लिए नियुक्त किया है.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

प्रोटेम स्पीकर के रूप में मांझी नवनिर्वाचित विधायकों को विधानसभा में सदन की सदस्यता की शपथ दिलाएंगे. बता दें कि मंगलवार को नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार के मंत्रिमंडल की पहली बैठक में 17वीं विधानसभा का प्रथम सत्र तथा विधान परिषद का 196 वां सत्र 23 से 27 नवंबर से बुलाने का निर्णय किया गया था.

इसे भी पढ़ें :  सीबीआई जांच के लिए राज्यों की सहमति लेना जरूरी, सुप्रीम कोर्ट का अहम  फैसला

नीतीश कुमार ने सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली.

इसी बैठक में 17वें बिहार विधानसभा के प्रथम सत्र और बिहार विधान परिषद के 196 वें सत्र के प्रारंभ में दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन में राज्यपाल के अभिभाषण के प्रारूप को अनुमोदित करने के लिए मुख्यमंत्री को अधिकृत करने को भी मंजूरी दी गयी थी. सोमवार को नीतीश कुमार के नेतृत्व में 15 सदस्यीय मंत्रिमंडल ने पद और गोपनीयता की शपथ ली थी. नीतीश कुमार ने सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. नयी सरकार में नीतीश कुमार के अलावा भाजपा से सात मंत्रियों, जदयू से पांच मंत्री तथा हम से एक और वीआईपी से एक मंत्री ने शपथ ली है.

इसे भी पढ़ें : बिहार का चुनाव : नतीजों से भिन्न कुछ नतीजे

Related Articles

Back to top button