JharkhandLead NewsRanchi

झारखंड के सीटेट पास उम्मीदवारों को भी शिक्षक बनने का मिले मौका, देश के कई राज्यों में यह व्यवस्था है लागू

Ranchi : झारखंड में शिक्षक नियुक्ति पात्रता परीक्षा नियमावली लागू कर दी गई है. जल्द ही इस नियमावली के तहत शिक्षकों की पात्रता तय करने के लिए परीक्षा ली जाएगी. इस बीच शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने भी कहा है कि जल्द ही प्राथमिक, मध्य, उच्च और प्लस 2 स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी. इसके अलावा मॉडल स्कूलों और आवासीय विद्यालयों में भी शिक्षकों की नियुक्ति होगी. 25,000 से अधिक शिक्षकों की नियुक्ति प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में होने वाली है. इन विद्यालयों में शिक्षक बनने के लिए राज्य स्तरीय शिक्षक नियुक्ति पात्रता परीक्षा यानी झारखंड शिक्षक नियुक्ति पत्र का परीक्षा पास होना अनिवार्य शर्त है.

क्लास एक से पांच और 6 से 8 में शिक्षक बनने के लिए दो स्तर की शिक्षक पात्रता परीक्षा ली जाती है. पहले शिक्षक पात्रता परीक्षा केंद्रीय स्तर की होती है. जिसे केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा कही जाती है. इसके अलावा विभिन्न राज्य अपने स्तर पर शिक्षक पात्रता परीक्षा लेते हैं. राज्य में हजारों की संख्या में ऐसे उम्मीदवार हैं जिन्होंने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा पास की है.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand बजट सत्र: भारत सरकार की स्वामित्व योजना पर झारखंड सरकार ने लगा दी है रोक, सीएम हेमंत ने दी जानकारी

ram janam hospital
Catalyst IAS

ऐसे उम्मीदवार सरकार से यह मांग कर रहे हैं कि देश के कई राज्यों में जिस तरह से शिक्षक नियुक्ति में राज्य स्तरीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के अलावा केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा को मान्यता दी गई है. उसी तर्ज पर झारखंड में भी क्लास 1 से 5 और 6 से 8 तक में शिक्षक बनने के लिए झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा के साथ केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा पास करने वाले झारखंड के उम्मीदवारों को अवसर दिया जाए.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

बताते चलें कि शिक्षा विभाग ने पारा शिक्षकों को सहायक शिक्षक में परिवर्तित किया है और पात्रता परीक्षा की योग्यता के आधार पर इनके मानदेय में बढ़ोतरी की गई है. वैसे पारा शिक्षक जिनके पास केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा की योग्यता है, उन्हें भी इसका लाभ मिल रहा है. ऐसे में शिक्षकों की सीधी नियुक्ति की प्रक्रिया में उम्मीदवार केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा लागू करने की मांग कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :  झारखंड कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे रात के 8.30 बजे पहुंचेंगे रांची, शनिवार को जायेंगे पलामू

कई राज्यों ने दे रखी है मान्यता

शिक्षक बनने की पात्रता रखने वाले उम्मीदवारों के अनुसार देश के तमाम राज्यों ने राज्य स्तरीय शिक्षक नियुक्ति पात्रता परीक्षा के अलावा केंद्रीय शैक्षणिक की पात्रता परीक्षा पास उम्मीदवारों को भी शिक्षक बनने के दायरे में रखे हुए हैं. उम्मीदवारों की ओर से उपलब्ध कराई गई जानकारी के अनुसार बिहार, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे स्टेट को उदाहरण के तौर पर लिया जा सकता है. जहां राज्य स्तरीय शिक्षक नियुक्ति पात्रता परीक्षा के साथ केंद्रीय शिक्षक नियुक्ति पात्रता परीक्षा को मान्यता दी गई है.

इसे भी पढ़ें :  रेलवे ने परीक्षार्थियों की सभी मुख्य माँगें मान कर दिया गया होली गिफ्ट : सुशील मोदी

Related Articles

Back to top button