न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड के अधिकांश जिले में सुखाड़ की संभावना, खूंटी जिले में सामान्‍य से सबसे कम बारिश

246

Ranchi: झारखंड में इस साल सुखाड़ की संभावना बढ गई है. मौसम विभाग रांची ने झारखंड के सभी जिलों से पिछले एक महीने में बारिश का आंकडा जारी किया है. 1 जून से 1 जुलाई तक बारिश की जो स्थिति है वह बहुत ही चिंतनीय है और यही हाल रहा तो झारखंड में इस बार सुखाड़ की स्थिति देखेने को मिलेगी.

एक महीने में सामान्‍य से 84 प्रतिशत तक कम बारिश दर्ज

झारखंड के करीब सभी जिलों में 30 दिनों में सामान्‍य से बहुत कम बारिश हुई है. इनमें खूंटी जिले में सामान्‍य से सबसे कम बारिश दर्ज की गई है. जून महीने में यहां सामान्‍य तौर पर 253.3 मिलीमीटर बारिश होती है. यहां इस बार जून में सिर्फ 40.3 एमएम बारिश हुई है. यह अंतर 84 प्रतिशत का हैजो कि बेहद गंभीर है. इसी तरह चतरा में जून महीने में सामान्‍य से 73 प्रतिशत, कोडरमा में 72 प्रतिशत, गढवा में 64 प्रतिशत, साहिबगंज में 68 प्रतिशत, रांची में 54 प्रतिशत और दुमका में 54 प्रतिशत कम बारिश हुई है. अगर आने वाले कुछ दिनों में यहां बारिश की स्थिति नहीं सुधरी तो यहां सुखाड़ पड सकता है.

बारिश

बोकारो में 37 प्रतिशतदेवघर में 35 प्रतिशत, पूर्वी सिंहभूम में 25 प्रतिशत, गिरिडीह 33 प्रतिशत, गोड्डा 33 प्रतिशत, गुमला 37 प्रतिशत, लातेहार 42 प्रतिशत, लोहरदगा 34 प्रतिशत, पाकुड 46 प्रतिशत, पलामू 45 प्रतिशत, रामगढ 33 प्रतिशत, सरायकेला खरसांवा 46 प्रतिशत, सिमडेगा 26 प्रतिशत कम बारिश हुई है. मौसम विभाग के मुताबिक स्थिति में सुधार नहीं हुई और ऐसी ही कम बारिश हुई तो यहां पर आंशिक तौर पर सूूखा पड़ सकता है.

इन जिलों में सूखे की संभावना कम

पश्चिमी सिंहभूम में 16 प्रतिशत, धनबाद में 10 प्रतिशत और जामताडा में 8 प्रतिशत कम बारिश हुई है. इन जिलों में सुखाड.  की कम संभावना कम है.

सिर्फ एक जिले में सामान्‍य से अधिक बारिश

झारखंड में सिर्फ एक जिले में सामान्‍य से अधिक बारिश हुई है. हजारीबाग जिले में सामान्‍य से 7 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है. यहां जून महिने में सामान्‍य बारिश 187.2 एमएम दर्ज की जाती है. इस बार यहां 200.9 प्रतिशत बारिश हुई है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: