JharkhandLead NewsRanchi

Jharkhand: बिजली बिल की वसूली में आ रही कमी, महाप्रबंधकों से एमडी ने मांगी रिपोर्ट

Ranchi: पिछले कुछ महीने से जेबीवीएनएल की बिजली बिल वसूली में कमी देखी जा रही है. इस संबंध में जेबीवीएनएल एमडी अविनाश कुमार की ओर से पत्र जारी किया है. जिसमें सभी आपूर्ति क्षेत्र के महाप्रबंधकों से बिजली बिल में कमी होने पर रिपोर्ट मांगी गयी है. रिपोर्ट में उन इलाकों का जिक्र किया गया है, जहां निर्धारित लक्ष्य से कम बिलिंग वसूली हुई है. पत्र में जिक्र है कि किन इलाकों में कम बिलिंग हुई है. रिपोर्ट के बाद उन इलाकों के अभियंताओं पर कार्रवाई भी हो सकती है. बता दें बिजली बिल वसूली ही जेबीवीएनएल के आय का एक मात्र स्रोत है. कोविड लॉकडाउन के बाद से इसमें काफी गिरावट आयी है. जिसे निगम दुरूस्त करने का आदेश समय-समय पर महाप्रबंधकों को देती है.

औसत से भी कम बिलिंग: जेबीवीएनएल हर महीने लगभग 450 करोड़ बिलिंग का लक्ष्य रखती है. क्षेत्रीय आपूर्ति कार्यालयों को 80 से 90 करोड़ तक बिलिंग का लक्ष्य दिया जाता है. पिछले कुछ महीनों से निगम के आदेष के बाद भी इसमें इजाफा नहीं देखा गया. वहीं इस महीने 250 करोड़ बिलिंग वसूली हुई. जबकि पूर्व में औसतन 320 करोड़ वसूली होती थी. ऐसे में निगम एमडी की ओर से मामले में पत्र जारी किया गया.

पहले भी दिया गया है आदेश : निगम एमडी की ओर से पहले भी रेवेन्यू डिपार्टमेंट और महाप्रबंधकों को निर्देश दिया गया है. जिसमें शत प्रतिशत बिजली बिलिंग की बात की जाती रही है. वहीं, निगम मुख्यालय के आदेश के बाद, अलग अलग सर्किलों में अभियान भी चलाया जा रहा है. इसके बाद भी राजस्व वसूली में कमी देखी गयी. बता दें रांची विद्युत आपूर्ति क्षेत्र में इस महीने लगभग 288 लोगों पर बिल नहीं देने पर एफआइआर की गयी. वहीं, बिलिंग वसूली अभियान से लगभग 35 लाख की वसूली की गयी. जबकि कुल राजस्व वसूली 70 करोड़ के लगभग रहा. जो निर्धारित लक्ष्य से कम है.

SIP abacus

Related Articles

Back to top button