न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हुनर के संग, जीवन में रंग का नारा दे रहा ‘झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसाइटी’

सरकार का दावा, पिछले वित्तीय वर्ष में दिये 26 हजार रोजगार, इस बार देंगे एक लाख अवसर17 विभागों में चल रहा है झारखंडियों के कौशल विकास का कार्यक्रम, पर एकीकृत आंकड़ा कहीं नहीं2022 तक एक करोड़ युवक-युवतियों को हुनरमंद बनाने का लक्ष्य

70

Ranchi: झारखंड सरकार ‘हुनर के संग, जीवन में रंग’ के नारे के साथ यहां के युवक-युवतियों के स्किल गैप को पूरा करने की बातें कह रही हैं. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि 2019 में 12 जनवरी को डेढ़ लाख युवक-युवतियों को नौकरियां दी जायेंगी. राज्य में कौशल विकास और युवाओं के क्षमता विकास को लेकर झारखंड कौशल विकास मिशन सोसाइटी का गठन किया गया है. मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में यह सोसाइटी गठित की गयी है, जिसके उपाध्यक्ष मुख्य सचिव हैं. सोसाइटी की तरफ से 2022 तक एक करोड़ युवक-युवतियों का स्किल डेवलपमेंट किया जायेगा.

सरकार की तरफ से हुनर पोर्टल विकसित किया गया है. इसमें 17 विभागों में चल रहे कौशल विकास कार्यक्रमों के आंकड़ों को डाला जाना जरूरी है. पर कल्याण, उद्योग, भवन निर्माण, खनन, स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास, पर्यटन, नगर विकास विभाग, ऊर्जा, कृषि और गन्ना विकास समेत अन्य विभागों को जोड़ा गया है. पर इनके आंकड़े खुलते ही नहीं हैं. साइट पर क्लिक करने से  401-एरर कोड दिखाता है.

इसे भी पढ़ें: होनहार युवकों को अपराधी बनाती है धनबाद पुलिस, हम कुछ नहीं कर सकते : राज सिन्हा

ग्रीन फील्ड मेगा ट्रेनिंग सेंटर की स्थापना हो रही है पुनदाग में

राजधानी के कोर कैपिटल क्षेत्र में ग्रीन फील्ड मेगा ट्रेनिंग सेंटर के लिए निर्माण कार्य जारी है. पुनदाग में ग्रीन फील्ड प्रोजेक्ट बन रहा है. ढाई साल में यह प्रोजेक्ट पूरा होगा. इस प्रोजेक्ट में ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रिसिटी, फैसिलिटी टेक्नोलॉजी, लाजिस्टिक्स, मैन्यूफैक्चरिंग, रीटेल एंड टूरिज्म और हास्पिटलिटी के क्षेत्र में प्रत्येक साल 10 से 12 हजार युवक-युवतियों को प्रशिक्षित किया जायेगा. सिंगापुर की कंपनी आईटीई सिंगापुर के सहयोग से यह सेंटर ऑफ एक्सीलेंस सरकार संचालित करेगी. इतना ही नहीं रांची के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (हेहल) में ब्राउन फील्ड प्रोजेक्ट के तहत भी कौशल प्रशिक्षण दिया जायेगा. सरकार का दावा है कि प्रायर लर्निंग कार्यक्रम के तहत कंस्ट्रक्शन क्षेत्र से जुड़े 2250 लाभुकों को प्रशिक्षण दिया गया है. इसमें 38 को प्रमाण पत्र दिये जा चुके हैं, जबकि 705 को स्किल गैप का प्रशिक्षण दिया गया है.

इसे भी पढ़ें – स्टिंग अॉपरेशन व ब्लैक मेलिंग मामले में फंसे उमेश शर्मा को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया

स्किल सम्मिट में दी गयी 25 हजार नौकरियां: राजीव रंजन

झारखंड स्किल डेवलपमेंट मिशन सोसाइटी के परियोजना निदेशक राजीव रंजन के अनुसार जनवरी 2018 में आयोजित स्किल सम्मिट में 25 हजार युवक-युवतियों को रोजगार दिया गया. इस वित्तीय वर्ष में एक लाख युवक-युवतियों को नौकरी के अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे. अब तक 34 हजार को नौकरी प्रदान की गयी है. सरकार की तरफ से सभी विभागों से कहा गया है कि वे रोजगार से संबंधित आंकड़े सोसाइटी के हुनर पोर्टल में डालें. उन्होंने बताया कि सरकार की तरफ से 2014-15 के बाद से हुनर का लक्ष्य तय किया गया था. इसे 2022 तक एक करोड़ तक पहुंचाना है.

इसे भी पढ़ें – अल्पवृष्टि से जूझ रहे पलामू और गढ़वा सुखाड़ क्षेत्र घोषित, तीन स्तर पर मिलेगी किसानों को राहत

सरकार का हुनरमंद बनाने का लक्ष्य

वित्तीय वर्ष कुल हुनरमंद बननेवाले लोगों की संख्या

2014-15   567,010

2015-16   681,309

2016-17   717806

———-    25 लाख

2022 तक  एक करोड़

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: