DhanbadEducation & CareerJharkhandLead NewsTOP SLIDER

सिविल सेवा परीक्षा में झारखंड का जलवा, टॉप-10 में धनबाद के यश जालूका और अपाला मिश्रा

Ranchi : संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सेवा परीक्षा 2020 का अंतिम परिणाम घोषित कर दिया गया. इस नियुक्ति के लिए कुल 761 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया है. शुभम कुमार ने सिविल सर्विसेज परीक्षा 2020 में शीर्ष स्थान हासिल किया, जबकि जागृति अवस्थी और अंकिता जैन ने क्रमशः दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया है.

यश जालूका और अपाला मिश्रा टॉप 10 में

सिविल सेवा परीक्षा में झारखंड के अभ्यर्थियों ने भी बेहतर प्रदर्शन किया है. धनबाद जिले के झरिया के यश जालूका ने पूरे भारत में चौथा स्थान,धनबाद की बेटी डॉ अपाला मिश्रा ने देश भर में 9वीं रैंक लाकर यूपीएससी टॉप टेन में शामिल हो गई हैं.

यश के पिता मनोज जालूका बड़बिल (ओडिशा) में व्यापार करते हैं. झरिया के लक्षमनिया मोड़ में राशन का दुकान भी है. यश की इस सफलता को लेकर पूरा परिवार अत्यंत प्रसन्न है. परिवार में यश की माता शोभा देवी, बड़ी बहन रितिका जालूका, रिया जालूका सहित ताऊ महाबीर जालूका, भाई अंकुर जालूका बेहद उत्साहित हैं.

advt

महज 23 साल के यश ने पहले प्रयास में ही कर दिया कमाल किया है. यश के पिता मनोज जालूका ने बताया कि, “यश ने यूपीएससी की परीक्षा में सफलता का परचम अपने प्रथम प्रयास में ही लहराया है.”

जानकारी के अनुसार यश ने आठवीं तक की पढाई डिनोबली डिगवाडीह से की. दसवीं की परीक्षा बड़बिल के सेंट मेरी स्कूल से पास की. उसके बाद यश ने दिल्ली के प्रतिष्ठित किरोड़ीमल कॉलेज से स्नातक की डिग्री ली. तत्पश्चात, दिल्ली स्कूल ऑफ इकॉनॉमिक्स से स्नातकोत्तर की उपाधि धारण किए

इसे भी पढ़ें : रांची : RIMS से हुई थी रेमडेसिविर इंजेक्शन की चोरी, प्राथमिकी दर्ज

वहीं जमशेदपुर के कनिष्क को 43वां रैंक मिला. हजारीबाग के उत्कर्ष कुमार ने 55वीं रैंक हासिल की है, जबकि देवघर मधुपुर के शुभम मोहन 196 रैंक पर है. देवघर की ही भावना कुमार ने 376वां रैंक हासिल करने में सफलता हासिल की है. चाईबासा के अभिनव कुमार गुप्ता ने 360वां रैंक हासिल किया है. राज्य के साहिबगंज जिले में मिर्जाचौकी के रहने वाले दलजीत कुमार को भी 114वां रैंक मिला हैं.

 

पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय चाईबासा के बड़ी बाजार निवासी राजकुमार गुप्ता के पुत्र अभिनव कुमार गुप्ता लगातार दूसरे वर्ष भी यूपीएससी परीक्षा में सफलता हासिंल की है. अभिनव को इस बार 360वां रैंक प्राप्त हुआ है. अभिनव की इस उपलब्धि से परिवार के खुश हैं. 2019 में अभिनव को यूपीएससी परीक्षा में 472 वां स्थान मिला था और उनका चयन भारतीय राजस्व सेवा के लिए किया गया था.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: