JharkhandNEWSRanchi

Jharkhand: डे बोर्डिंग और आवासीय स्पोर्ट्स सेंटरों के लिए सेलेक्शन प्रक्रिया शुरू

Ranchi: राज्य के अलग-अलग जिलों में स्थित आवासीय स्पोर्ट्स सेंटर और डे बोर्डिंग सेंटरों में एडमिशन लिए जाने की तैयारी शुरू है. खेल निदेशालय ने इस संबंध में सभी जिलों के जिला खेल पदाधिकारी को टास्क दिया था. इसके बाद से जिलों में सेलेक्शन ट्रायल की प्रक्रिया पर काम शुरू कर दिया गया है. सिमडेगा, गढ़वा, खूंटी सहित अन्य जिलों में इसके लिए 20 से 24 फरवरी के बीच ट्रायल का काम पूरा कर लिए जाने का प्रोग्राम बनाया गया है. इस ट्रायल में शामिल होने वाले प्रतिभागियों की उम्र सीमा 1 फरवरी 2010 से 31-01-2012 के बीच यानि 10 से 12 वर्ष के बीच की होनी चाहिए.

आवासीय और डे बोर्डिंग सेंटरों के लिये प्रतिभाओं की तलाश में जुटा झारखंड खेल विभाग

ram janam hospital
Catalyst IAS

जिलों में ऐसे है प्रोग्राम

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

सिमडेगा में जिला स्तरीय सेलेक्शन ट्रायल प्रतियोगिता का आयोजन अल्बर्ट एक्का स्टेडियम में किया जाएगा. 21 फरवरी को सुबह 10 बजे से रजिस्ट्रेशन होना तय है. 22-24 फरवरी को टैलेंटेड प्रतिभागियों के लिए स्कील टेस्ट होगा. जिला स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करने वाले 20 लडकों का सेलेक्शन होगा जो राज्यस्तरीय ट्रायल प्रतियोगिता में भाग लेंगे. वहां प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करने वालों को आवासीय स्पोर्ट्स सेंटर के लिए चुना जायेगा.

 

गढ़वा में स्थित पांच डे बोर्डिंग सेंटरों के लिए 20 फरवरी को कन्या मध्य विद्यालय (सदर अस्पताल के सामने) सुबह 10 बजे से ओपेन सेलेक्शन ट्रायल प्रतियोगिता का आयोजन होगा. इसमें बेहतर प्रदर्शन करने वाले और सेलेक्टेड प्लेयर्स को नियमित ट्रेनिंग के साथ साथ हर माह 500 रुपये भी दिये जाएंगे.

खूंटी में प्रतिभा चयन प्रतियोगिता का आयोजन बालक, बालिकाओं के लिए बिरसा कालेज,खूंटी के ग्राउंड में होगा. 21 फरवरी को कर्रा, तोरपा और रनिया की बच्चियाँ जबकि 22 को खूंटी, मुरहू और अडकी की लडकियां ट्रायल में शामिल होंगी. कर्रा, तोरपा और रनिया के बच्चे 23 फरवरी को जबकि 24 को खूंटी, मुरहू और अडकी के बच्चे ट्रायल में शामिल होंगे.

 

इनका रखें ध्यान

प्रतिभागियों की उम्र 10 से 12 साल के बीच ही होनी चाहिए. ट्रायल के दौरान आधार कार्ड, नगर निगम अथवा पंचायत से निर्गत जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो भी लाना होगा. आवासीय स्पोर्ट्स सेंटर के लिए सेलेक्शन से पहले प्रतिभागियों का मेडिकल टेस्ट होगा.

 

Related Articles

Back to top button