JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

Jharkhand: शराब की 1500 से अधिक दुकानों के लिए प्लेसमेंट एजेंसी की चयन प्रक्रिया शुरू, 3000 से अधिक युवाओं को मिलेगा रोजगार

Ranchi: झारखंड राज्य बीवरेज कॉरपोरेशन लिमिटेड (जेएसबीसीएल) की तरफ से शराब के 1564 रीटेल दुकानों के लिए प्लेसमेंट एजेंसी के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. प्रत्येक रीटेल शॉप में एक शॉप मैनेजर और एक सहायक की प्रतिनियुक्ति होगी. शॉप इंचार्ज को स्नातक होना जरूरी है, वह भी झारखंड से. यही स्थिति शॉप एसिस्टेंट की रहेगी, जिसे झारखंड से 12वीं उत्तीर्ण का सर्टिफिकेट देना होगा. यानी राज्य के 1564 दुकानों में 3128 युवाओं को प्लेसमेंट एजेंसी से रोजगार के अवसर मै मिलेंगे। राज्य के श्रम कानूनों औऱ् न्यूनतम वेज के अनुसार इनका मानदेय देना जरूरी होगा.

जेएसबीसीएल ने इसके लिए राज्य भर में 10 जोन बनाये हैं

जोन पांच में सबसे कम 76 रीटेल वेंडिंग दुकानें हैं, जबकि सबसे बड़ा जोन, जोन -7 है, जहां 266 रीटेल दुकानें हैं. जेएसबीसीएल की तरफ से निविदा की कीमत 83.11 करोड़ रुपये तय की गयी है. प्लेसमेंट एजेंसियों की तरफ से शराब के रीटेल वेंडिंग दुकानों में योग्य कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की जायेगी. जेएसबीसीएल के प्रबंध निदेशक की तरफ से इसको लेकर चयन की प्रक्रिया शुरू की गयी है।

Catalyst IAS
ram janam hospital

जेएसबीसीएल की तरफ से प्लेसमेंट एजेंसी को किसी भी तरह के अवैध शराब के धंधे के बारे में जानकारी देना जरूरी होगा. प्लेसमेंट एजेंसी को न्यूनतम  राजस्व को प्राप्त करना जरूरी होगा, जो उत्पाद और मद्य निषेध विभाग के रीटेल पॉलिसी -2022 में निहित है. प्लेसमेंट एजेंसी के पास न्यूनतम 1000 श्रमिकों का लेबर लाइसेंस होना जरूरी है.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

बांटा गया 10 रीटेल जोन में

जेएसबीसीएल की तरफ से पूरे राज्य को 10 रीटेल जोन में बांटा गया है. इसमें जोन-1 में रांची को रखा गया है. रांची में 180 रीटेल वेंडिंग दुकानें हैं. जोन-2 में पूर्वी सिंहभूम को शामिल किया गया है, जहां 110 दुकानें हैं. जोन-3 में रामगढ़ और बोकारो को रखा गया है, जहां शराब के रीटेल वेंडिंग शाप की संख्या 126 है. जोन-4 में धनबाद है, जहां 140 दुकानें हैं. जोन-5 में गुमला, खूंटी, लोहरदगा और सिमडेगा हैं, जहां शराब की कुल 76 दुकानें हैं. जोन-6 में पलामू, गढ़वा और लातेहार है, जहां 177 शराब की दुकानें हैं. पाकुड़, साहेबगंज, दुमका, गोड्डा और जामताड़ा जोन-7 में शामिल हैं. जहां शराब की 266 दुकानें हैं. जोन-8 में गिरिडीह और देवघर हैं, जहां 190 रीटेल दुकानें हैं. जोन-9 में सरायकेला-खरसांवां और चाईबासा जिला शामिल है जहां 124 दुकानें हैं. जोन-10 में हजारीबाग, कोडरमा और चतरा जिले को रखा गया है, जहां शराब के खुदरा दुकानों की संख्या 175 है.

Related Articles

Back to top button