JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

Jharkhand : विपक्ष के हंगामे के बीच 2926 करोड़ रुपये का दूसरा अनुपूरक बजट सदन में पेश

Ranchi : झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दुसरे दिन विपक्ष के विधायकों ने सदन में जमकर बवाल काटा. विपक्ष के हंगामे के बीच वित्त मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने चालू वित्तीय वर्ष के लिए 2926 करोड़ रुपये का दूसरा अनुपूरक बजट सभा पटल पर रखा. सोमवार को अनुपूरक बजट पर सदन में चर्चा होगी.

अनुपूरक बजट में सबसे ज्यादा राशि पेंशन मद में 620 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. इसके बाद ऊर्जा विभाग के लिए 588 करोड़ रुपये,स्वास्थ्य विभाग के लिए 518 करोड़ रुपये, जल संसाधन विभाग के लिए 231 करोड़, गृह कार एवं आपदा विभाग के लिए 208 करोड़ रुपये, उच्च एवं तकनिकी शिक्षा विभाग के लिए 172 करोड़ रुपये, महिला एवं बाल विकास विभाग के लिए 188 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है.

इसे भी पढ़ें:पटना हाइकोर्ट ने कोरोना महामारी पर राज्य सरकार को नये सिरे से पूरे और सही तथ्यों की जांच कर हलफनामा दायर करने का दिया निर्देश

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS

सत्र सोमवार तक के लिए स्थगित

The Royal’s
MDLM
Sanjeevani

झारखंड विधानसभा का सत्र सौमवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. आज का पूरा दिन हंगामा के भेंट चढ़ गया. पूरे दिन सदन में जेपीएससी का मुद्दा छाया रहा. विपक्ष जेपीएससी के मुद्दे के साथ-साथ बेरोजगारी और बिजली के मुद्दे पर सरकार पर हमलावर रहा.

इसे भी पढ़ें:आयुष मिशन के लिए केंद्र सरकार ने झारखंड को दिये 15 करोड़, खर्च हुए सिर्फ 4.5 लाख

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा- नंगा विरोध मत कीजिए

आसन के समक्ष नारेबाजी से विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्रनाथ महतो नाराज हो गये. स्पीकर ने कहा कि- नंगा विरोध मत कीजिये. उन्होंने कहा कि विरोध करने का भी एक तरीका है. जनता के सवाल सदन में नहीं आ रहे हैं. सभी जनप्रतिनिधि हैं और उन्हें जनता को जवाब देना पड़ता है.

संसद में हंगामे को लेकर देश के प्रधानमंत्री भी दुःख व्यक्त कर चुके हैं. कहा कि सदन चलेगा तभी जनता की आवाज बुलंद होगी और उनकी समस्याओं का समाधान हो सकेगा.

इसे भी पढ़ें:शहरी क्षेत्रों में वार्ड स्तर पर योजनाओं को लेकर प्रतिस्पर्धा करायें : हरदीप पुरी

Related Articles

Back to top button