JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

रूर्बन कलस्टरों में झारखंड को 9 वां स्थान, रैकिंग सुधारने के लिए Ranchi  सहित 15 जिलों को सचिव ने दिये निर्देश

ठीक ढंग से नहीं हो रहा शहरों की तरह सुविधाएं उपलब्ध कराने का काम

Ranchi : केंद्र प्रायोजित श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन योजना के तहत चयनित कलस्टरों के विकास में झारखंड पिछड़ा हुआ है. पूरे देशभर में डायनामिक रैंकिंग में झारखंड को 9वां स्थान मिला है. राज्य में 15 बसावटों में बेहतर बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करायी जानी है,ताकि वहां नगरीय सुविधाएं दी जा सकें, लेकिन राज्य में इसका काम सही ढंग से नहीं हो रहा है. ग्रामीण विकास सचिव डॉ.मनीष रंजन ने इसकी समीक्षा की है. सचिव ने रैंकिंग सुधारने के लिए धनबाद, पूर्वी सिंहभूम, गिरिडीह, बोकारो, खूंटी, गुमला, हजारीबाग, प.सिहभूम, चतरा,  दुमका, लातेहार, पाकुड़, सिमडेगा, रांची व रामगढ़ जिला के उपायुक्त व उपविकास आयुक्त को पत्र लिखा है.

इसे भी पढ़ें :Jharkhand में 18-44 आयु वर्ग वालों में कोरोनारोधी टीके के प्रति इंटरेस्ट कम

advt

ये निर्देश दिये गये

सचिव ने कहा है कि गांव-कलस्टरों की रैकिंग में सुधार के लिए योजना अंतर्गत निर्धारित गतिविधियों,कार्यो जिसमें डीपीआर की इंट्री,लिगेसी इंट्री, वर्क इंट्री,जियो टैग, एफटीओ जेनरेशन आदि की नियमित प्रवृष्टि रूर्बन सॉफ्ट पोर्टल पर सुनिश्चित करायें. सचिव ने रूर्बन मिशन अंतर्गत क्रिटिकल गैप फंड के तहत चयनित सभी गतिविधियों का रख-रखाव तथा स्वयं सहायता समुहों, स्थानीय समितियों, ग्राम पंचायत समिति तथा संबंधित निकायों के माध्यम से सुनिश्चित कराने को कहा है.

इसे भी पढ़ें :भाकपा माओवादियों का लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में झारखंड समेत चार राज्यों में आज बंद

आजीविका से जुड़ी चीजों को करने का निर्देश

ग्रामीण विकास सचिव ने रैकिंग सुधारने के लिए सभी कलस्टरों में विकास के लिए आर्थिक व आजीविका संवर्द्धन से संबंधित गतिविधियों के लिए बुनियादी संरचनाओं के साथ-साथ कुशल प्रशिक्षण एवं रख-रखाव की भागीदारी सुनिश्चित कराने पर जोर दिया है.

इसे भी पढ़ें :औरंगाबाद : सहेली से मिलने जा रही थी छात्रा, तीन बदमाशों ने अगवा कर किया सामूहिक बलात्कार

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: