न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गूगल मैप के सहारे झारखण्ड पुलिस पहुंचेगी अफीम के अड्डों तक

गुगल के साथ किया है करार

573

Ranchi: झारखण्ड पुलिस अब अफीम के अड्डों तक पहुंचने के लिए सर्च इंजन गूगल का सहारा लेने वाली है. गूगल के जरिये पुलिस अपनी रणनीति तय करेगी. बात दें कि झारखण्ड के सभी जिलों को आदेश दिया गया है कि वे गूगल मैप पर अफीम के क्षेत्रों को चिन्हित करें.

इसे भी पढ़ें-पंडरा के शाहदेव नगर में 18 वर्षीय युवती ने की आत्महत्या

गूगल के साथ किया है करार

hosp3

गूगल के साथ इस करार की ख़ास वजह है. दरअसल साल के इस महीने में अफीम में फूल आने लगते हैं. ये फूल मैप पर दिख जाएंगे. इसके बाद पुलिस मैप के सहारे ये पता लगा लेगी कि कहां-कहां अफीम की खेती हो रही है. इसके बाद वहां घेराबंदी कर अफीम की खेती नष्ट कर देगी.

इसे भी पढ़ें-अल्पसंख्यकों को घुसपैठिया कहे जाने पर ऑल मुस्लिम यूथ एसोसिएशन जताया एतराज

पुलिस को मिलेगी मदद

झारखण्ड में सबसे ज्यादा अफीम की खेती पलामू, खूंटी, चतरा आदि क्षेत्रों में की जाती है. कुछ दिनों पहले ही राज्य में पत्थलगड़ी के नाम पर इन इलाकों में अफीम की खेती करने की बात भी सामने आई थी. पुलिस को इन इलाकों में घुसने नहीं दिया जाता था. लेकिन अब गूगल के कारण पुलिस बिना वहां गये ही पता लगा लेगी कि वहां अफीम की खेती हो रही है या नहीं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: