JharkhandLead NewsNEWSRanchiTOP SLIDER

Jharkhand: मंत्रियों के लिए कोर कैपिटल एरिया में बनने वाले रेजिडेंशियल कॉम्प्लेक्स की क्वालिटी पर नजर रखेंगे PMC

Ranchi: एचइसी, धुर्वा (रांची) के कोर कैपिटल एरिया में मंत्रियों के लिए रेजिडेंशियल कॉम्प्लेक्स बनाये जाने की तैयारी है. भवन निर्माण विभाग, झारखंड इसकी तैयारियों में लगा हुआ है. यह काम पूरी गुणवत्ता और जिम्मेदारी के साथ हो, इसके लिए भी विभाग पहल कर रहा है. इस क्रम में अब उसने प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कंसल्टेंट (PMC) अप्वाइंट करने का फैसला लिया है. इसके लिए इ- प्रोक्योरमेंट नोटिस भी जारी कर दिया है. 12 अक्टूबर से बिड जमा होना शुरू होगा. आखिरी डेट 29 अक्टूबर 2022 तक तय किया गया है. जानकारी www.jharkhandtenders.gov.in पर मिल सकेगी.

 

धरातल पर उतरने लगा काम

गौरतलब है कि झारखंड के मंत्रियों का आलीशान बंगला हैदराबाद का केएमवी प्रोजेक्ट्स लिमिटेड को बनाने का मौका मिला है. 69.90 करोड़ की लागत से राज्य के कैबिनेट मंत्रियों का आलीशान बंगला स्मार्ट सिटी परिसर में बनेगा. झारखंड शहरी आधारभूत संरचना निगम लिमिटेड (जुडको) की ओर से पिछले दिनों निकाली गयी निविदा में हैदराबाद की कंपनी केएमवी प्रोजेक्ट्स को एल-1 घोषित किया गया था. निविदा की शर्तों के आधार पर केएमबी प्रोजेक्ट्स को दो साल में मंत्रियों का आलीशान बंगला बनाने का काम पूरा करना है.

स्मार्ट सिटी में मंत्री आवास का निर्माण कार्य शुरू, राज्य गठन के बाद पहली बार बन रहा है मंत्रियों का बंगला

मंत्रियों के लिए स्मार्ट सिटी परिसर धुर्वा में 1.10 एकड़ में एक-एक बंगला बनाया जाना है. पिछले दिनों मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने स्मार्ट सिटी क्षेत्र में स्किल डेवलपमेंट पार्क के पास मंत्रियों के लिए बंगला बनाने की सहमति दी थी. राज्य कैबिनेट ने बंगलों के निर्माण के लिए 69.90 करोड़ रुपये की प्रशासनिक स्वीकृति भी प्रदान कर दी है. सरकार की योजना के अनुसार साढ़े छह करोड़ से अधिक की लागत से एक-एक बंगला बनाया जायेगा. कुल 1.42 लाख वर्ग फीट में बंगला बनाया जायेगा. इसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं के अलावा टेबुल टेनिस, बिलियर्ड्स कोर्ट, बैडमिंटन कोर्ट और अन्य अत्याधुनिक सुविधाएं रहेंगी. मंत्रियों का बंगला डबल स्टोरी होगा. इसमें मास्टर बेड रूम, पूजा रूम, गेस्ट रूम, फैमिली लाउंज, काफी लाउंज, किचन, मेस, जिम, योगा परिसर भी होगा. मंत्रियों के सुरक्षा कर्मियों के लिए नौ बेड का गार्ड रूम, 15 बेड की दो डोरमेट्री भी रहेगी. मंत्रियों के लिए आवासीय कार्यालय भी बंगला परिसर में बनाया जाना है.

Related Articles

Back to top button