Jharkhand

पलामू: वज्रपात से दो महिलाओं सहित तीन की मौत

विज्ञापन
Advertisement

Palamu: पलामू जिले में सोमवार को तेज बारिश के दौरान वज्रपात होने से दो महिलाओं सहित तीन की मौत हो गयी. जिले के नौडीहा बाजार, तरहसी और हुसैनाबाद थाना क्षेत्र में वज्रपात की घटना हुई. तरहसी और हुसैनाबाद थाना क्षेत्र के वज्रपात से दो महिलाओं की मौत हुई, जबकि नौडीहा बाजार इलाके में एक किसान की मौत हो गयी. तीन घटनाओं के बाद ग्रामीणों ने मुआवजा की मांग की है.

नौडीहा में युवा किसान की मौत

जिले के नौडीहा बाजार प्रखंड के लक्ष्मीपुर पंचायत में 35 वर्षीय सीटू भुइयां की व्रजपात गिरने से घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. बताया जाता है कि खेत में काम करने दौरान अचानक आकाशिय वज्रपात हुआ, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई.

हुसैनाबाद में महिला की मौत, पिछले वर्ष गयी थी पति की जान

दूसरी घटना हुसैनाबाद के झरगड़ा गांव में हुई. झाखंड-बिहार सीमा स्थित झरगाड़ा गांव में सोमवार को 45 वर्षीय बिंदा कुंवर की बज्रपात से हो गई. बिंदा कुंवर अपने बेटे को खाना पहुंचाने खेत में गई थी. जो उसकी मौत का कारण बना. गत वर्ष भी बिंदा कुंवर के पति लल्लु साव की मौत वज्रपात से हुई थी. ग्रामीण सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वज्रपात से गत वर्ष पति की मौत के बावजूद बिंदा कुंवर को आपदा प्रबंधन से अनुग्रह राशि नहीं मिली.

advt

शव को उठने से ग्रामीण रोक रखे हैं

ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत की मुखिया अनिता देवी ने लल्लु साव की मौत की खबर प्रखंड कार्यालय को नहीं दी. मृतका बिंदा कुंवर के शव को ग्रामीणों ने यह कहकर उठने नहीं दे रहे हैं कि बिंदा को पति की मौत के बाद उन्हें कोई लाभ नहीं मिला. ग्रामीणों का कहना है कि बिंदा कुंवर के आश्रित को सरकारी प्रावधान के तहत लाभ मिलना चाहिए. ग्रामीणों ने कहा कि प्रशासन घटना स्थल पर पहुंचकर इसकी पड़ताल कर सरकारी प्रावधान के तहत आश्रित को सहायता राशि की घोषणा करे. घटना की जानकारी मिलते ही हुसैनाबाद थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को थाना लाई है. पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें- कोरोना से संक्रमित पुलिसकर्मियों के लिए झारखंड सरकार ने जारी किया 33 लाख

इधर, जिले के तरहसी प्रखंड अंतर्गत देल्हा ग्राम निवासी कमलेश महतो की 25 वर्षीय पुत्री की मौत वज्रपात से हो गयी. मिली जानकारी के मुताबिक, वह अपने घर से नजदीक पशुओं को चराने निकली हुई थी. इसी बीच तेज बारिश होने के कारण वह पीपल के पेड़ के पास बैठ गयी. इसी बीच वज्रपात हुआ, जिसकी चपेट में वह आ गयी. ग्रामीणों ने बताया कि महिला के साथ उसके दो पुत्र भी थे, परन्तु इस घटना में सभी सुरक्षित बच गए.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: