JharkhandPalamu

पलामू: माले विधायक ने जूस पिलाकर सेंट्रल जेल के कैदियों का अनशन समाप्त कराया, 12 दिनों से थे आंदोलन पर

विज्ञापन

Palamu. पिछले 13 सितंबर से पलामू के मेदिनीनगर केंद्रीय कारा में अनशन कर रहे कैदियों का आज 13वें दिन आंदोलन को समाप्त कराया गया. पांच सूत्री मांगों को लेकर अनशनरत कैदियों से भाकपा माले के विधायक विनोद सिंह ने वार्ता की और आश्वासन दिया कि सभी मुद्दों पर कार्रवाई हो रही है. माले विधायक ने कैदियों को जूस पिलाया और अनशन समाप्त कराया.

ये भी पढ़ें- पलामू: ग्रामीण बैंक ने ऋण चुकता करने के बाद भी समूह की महिलाओं को थमाया नोटिस

विधायक ने कहा कि उनके सवालों को विधानसभा में उठाया गया है. ओपन जेल और रिहाई के मामले में कागजी प्रक्रिया बढ़ी है. जेलों में सुधार की मांग बहुत जरूरी है और सरकार इस तरफ ध्यान दें. जेलों को सुधारगृह के रूप में परिवर्तित करने की ओर कदम बढ़ाना चाहिए.

advt

केन्द्र सरकार पर बोला हमला

किसान विरोधी कृषि बिल कानून के खिलाफ भाकपा माले के नेतृत्व में किसानों ने जेलहाता चैक से रैली निकाली, जो भगत सिंह चैक होते हुए छहमुहान पहुंची. इसमें विभिन्न राजनैतिक व किसान जनसंगठन शामिल हुए. इसमें शामिल होते हुए माले विधायक ने कहा कि पिछले कई सालों से किसान एमएसपी को लेकर आंदोलन कर रहे थे. सरकार से मांग कर रहे थे कि एमएसपी पर खरीददारी सुनिश्चित किया जाए पर केंद्र की भाजपा सरकार, महामारी के बीच में ऐसा अध्यादेश लेकर आई है, जिसने, किसानों को पूंजीपतियों के हवाले कर दिया है. अब पूंजीपति तय करेंगे कि किसान के फसलों का दर क्या होगा? भाजपा सरकार के इन किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ आज देश भर में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं, सड़कों पर उतर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- पलामू में 2618 कोरोना संक्रमित, रांची-जमशेदपुर से लौटे पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी भी कोरोना पॉजिटिव

भाकपा माले के राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार, सभी भारतीयों से उनके सारे अधिकारों को छीन कर अपने पूंजीपति आकाओं के गोद में रख देना चाहती है. सरकार की गलत नियमों का विरोध करने पर लोगों पर राष्ट्रद्रोह के मुकदमे लगा दिए जा रहे हैं. आज सैकड़ों सामाजिक कार्यकर्ता जेलों में बंद हैं, बिना आरोप तय किए उन्हें जेलों में बंद रखा जा रहा है.

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button