न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

 झारखंड महागठबंधन : नाराज अल्पसंख्यकों मनाने की पहल, 2020 में राज्यसभा भेजने का वादा

सभी दलों ने एक स्वर पर कहा, बागी नेताओं के लिए महागठबंधन में कोई जगह नहीं

393

Ranchi : भाजपा के खिलाफ बनने वाले साझा महागठबंधन के बीच सीट शेयर पर आपसी सहमति बन गयी है. गत 17 जनवरी को हेमंत सोरेन के आवास पर हुई घोषणा को एक बार फिर से दोहराते हुए झारखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा है कि लोकसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में और विधानसभा चुनाव जेएमएम के नेतृत्व में लड़ा जाएगा.

वहीं लोकसभा चुनाव में सीट नहीं मिलने से नाराज अल्पसंख्यकों को मनाने के लिए सभी दलों ने वादा किया है कि झारखंड में 2020 में होने वाले राज्यसभा चुनाव में विपक्ष साझा तौर पर अल्पसंख्यक को अपना उम्मीदवार बनाएगा. इसके साथ ही सभी दलों ने एक स्वर में कहा कि बागी नेताओं को किसी भी हाल में महागठबंधन में शामिल नहीं किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें – पत्थलगड़ी की वास्तविकता को समझने की जरूरत, इसे राजनीतिक रूप नहीं देना चाहिएः अर्जुन मुंडा

hosp3

रविवार को शिबू सोरेन के आवास पर आयोजित प्रेस कांफ्रेस में उपस्थित सभी नेताओं ने यह बातें कहीं. ऐसे में यह तय है कि गोड्डा की सीट झारखंड विकास मोर्चा को दिए जाने के बाद कांग्रेस के कद्दावर नेता फुरकान अंसारी के चुनाव लड़ने की उम्मीद भी खत्म हो गई है.

जेएमएम कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य की एक बड़ी आबादी अल्पसंख्यक समुदाय की है. महागठबंधन में शामिल सभी दलों की चिंता है कि उनकी मांगों को नकारा नहीं जाए.

इसके लिए सभी दलों ने एक मत से निर्णय लिया है कि आगामी 2020 में जब कभी राज्यसभा चुनाव होंगे, महागठबंधन अल्पसंख्यक समुदाय से ही किसी को उच्च सदन में भेजेगा. ताकि इस वर्ग का भी प्रतिनिधित्व संसद में बना रहे.

इसे भी पढ़ें – प्रशासन को किसने चूड़ियां पहनकर बैठने को कहा, साफ है चौकीदार नेः हेमंत सोरेन

दिशोम गुरु ने दी सहमति, आरजेडी से बातचीत जारी :  अजय कुमार

साझा बैठक के दौरान डॉ अजय ने कहा कि महागठबंधन अपने स्वरुप में आ चुका है. कांग्रेस राज्य की 7, जेएमएम 4, जेवीएम 2 और आरजेडी 1 सीट पर चुनाव लड़ेगी. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डा. अजय कुमार ने कहा कि इसपर दिशोम गुरु शिबू सोरेन ने भी सहमति दे दी है, और उनकी मुहर भी लग चुकी है.

वाम दलों के शामिल होने के सवाल पर डा. अजय कुमार का कहना था कि उनकी इच्छा थी कि वाम संगठनों को भी साथ लेकर चला जाय. ऐसे में सभी वाम दल एकजुट होकर एक सीट पर बात करें, तो कांग्रेस पार्टी इसपर विचार करेगी.

वहीं आरजेडी के पलामू और चतरा पर चुनाव लड़ने के दावे पर उन्होंने कहा कि उनके लिए एक सीट पलामू छोड़ी गयी है. बातचीत जारी है. जल्द ही आरजेडी को मना लिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें – झारखंड : महागठबंधन के बीच हुआ सीटों का बंटवारा, कांग्रेस 7, जेएमएम 4, जेवीएम 2 और आरजेडी 1 सीट पर…

भाजपा का सफाया सभी की पहली और अंतिम प्राथमिकता :  हेमंत सोरेन

इस अवसर पर हेमंत सोरेन ने कहा कि गुरु जी की उपस्थिति में महागठबंधन की घोषणा कर दी गयी है. अब इसमें कोई किन्तु–परन्तु की बात नहीं है. जहां तक आरजेडी के महागठबंधन में शामिल होने की बात है, तो अभी भी कुछ उहापोह की स्थिति में हैं.

हालांकि उन्होंने दावा किया कि जल्द ही यह मामला निपटा लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि सभी दलों की पहली और अंतिम प्राथमिकता भाजपा का सफाया करना है. इस दौरान उन्होंने अल्पसंख्यकों को लेकर जारी विरोध की बात भी प्रमुखता से रखी. हेमंत सोरेन ने कहा कि वे सभी वर्गों का हित चाहते हैं.

सभी को मिलकर एक बेहतर झारखंड बनाना है. हमें भाजपा के हिन्दु–मुस्लिम वाली राजनीति में नहीं पड़ना है, हमें एक रहना है और अपने संकल्प को पूरा करना है. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बड़े भाई की भूमिका में हैं और झामुमो उसके बाद की भूमिका में है.

उन्होंने कहा कि जल्द ही एक संयुक्त कमेटी बनेगी, कॉर्डिनेशन कमेटी बनेगी, जिसकी देखरेख में चुनाव लड़ा जायेगा.

इसे भी पढ़ें – जेएमएम ने ठुकराया ऑफर, अब रविंद्र पांडेय थाम सकते हैं जदयू का हाथ !

शून्य पर आउट करेंगे भाजपा को :  बाबूलाल मरांडी

इस दौरान जेवीएम सुप्रीमो बाबू लाल मरांडी ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए. कहा कि पांच साल के कार्यकाल में भाजपा ने पूरे देश के संवैधानिक संस्थाओं को चोट पहुंचाई है.

भाजपा ने न्यायपालिका तक को नहीं छोड़ा. वर्तमान परिस्थिति में देश में अल्पसंख्यक समुदाय भयभीत है. मॉब लिचिंग और डंडे से आम जनता की पिटाई एक सामान्य बात हो गई है. जबकि पुलिस देखकर भी इन घटनाओं को अनदेखा कर रही है.

इसलिए ऐसी पार्टी को केन्द्र और राज्य दोनों जगहों से उखाड़ फेंकने की जरुरत है. उन्होंने दावा कि लोकसभा चुनाव में महागठबंधन भाजपा को केन्द्र और राज्य दोनों से शून्य पर आउट करेंगे.

इसे भी पढ़ें – चतरा सीट पर टिकी है भाजपा कार्यकर्ताओं की निगाह, स्थानीय प्रत्याशी की मांग

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: