JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

झारखंड: 21 वें स्थापना दिवस समारोह से 600 शिक्षकों को नौकरी, 520 करोड़ से अधिक की सड़क योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास

Special correspondent

Ranchi: झारखंड का 21वां स्थापना दिवस समारोह 15 नवंबर को राज्यभर में मनाया जायेगा. प्रोजेक्ट भवन के द्वित्तीय सभागार में राज्यस्तरीय समारोह होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी दिन ऑनलाइन बिरसा मुंडा संग्राहालय का उद्घाटन करेंगे. बिरसा मुंडा के वंशजों को सम्मानित किया जाएगा. सीएम इसी दिन उलिहातु से आपके अधिकार,आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे. सार्वभौमिक पेंशन योजना की शुरुआत होगी.

इसे भी पढ़ेंःपलामू में तेज धारदार हथियार से कनपटी गोदकर भाजयुमो के जिला कोषाध्यक्ष की हत्या

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसके अलावा राज्य सरकार नियुक्ति पत्र का वितरण और सड़क-भवन की योजनाओं का शिलान्यास-उद्घाटन भी करेगी. अधिकारिक सूत्रों के अनुसार प्रोजेक्ट भवन सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन  स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग की ओर से 600 से अधिक शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौपेंगे. सभी प्रशिक्षित शिक्षक हैं. आइटी विभाग का दो ऐप भी लांच होगा. इसके अलावा सड़क निर्माण की भी 520 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन-शिलान्यास की तैयारी है. पथ निर्माण विभाग इसकी सूची तैयार कर रहा है. भवन निर्माण विभाग से भी जुड़ी 500-600 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन-शिलान्यास कराया जायेगा. सिंचाई योजनाओं की भी सौगात मिलेगी. मनरेगा से झारखंड में 24000 परिवारों को 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराने व कोरोना काल में प्रवासी मजदूरों को समय पर रोजगार उपलब्ध कराने को सरकार अपनी उपलब्धी बतायेगी. हालांकि, परिसंपत्तियों का वितरण व अधिकांश नियुक्ति पत्र का वितरण सरकार के दो साल पूरे होने पर 29 दिसंबर को की जायेगी. देवघर,खूंटी,गिरिडीह,बुंडू,झुमरीतिलैया,चाकुलिया एवं गोड्डा में बन रहे सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट  प्लांट का भी उद्घाटन कराने की तैयारी है.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंःदीपावली के धुएं से दिल्ली में लॉकडाउन जैसी स्थिति, फिर से वर्क फ्राम होम व स्कूल बंद

वहीं, ट्रांसपोर्ट नगर,11 मंत्रियों के बंगला निर्माण का भी शिलान्यास कराने की तैयारी है. ग्रामीण कार्य विभाग ने भी सभी ग्रामीण कार्य प्रमंडल के इंजीनियरों को ग्रामीण सड़कों के निर्माण का लक्ष्य तीन माह पहले ही दिया है. इसके तहत पुरानी व जर्जर सड़कों को दुरूस्त कर चलने लायक बनाया जायेगा. लगभग 1200 ऐसी सड़कें हैं जिन्हें चिहिनत कर दुरूस्त करने का काम किया जा रहा है. यह प्रयास हो रहा है इन्हें 15 नवंबर तक बना दिया जाये,  सीएम कल इसकी  घोषणा करेंगे कि राज्य में कोई भी सड़क टूटी-फूटी नहीं हैं.

Related Articles

Back to top button