Crime NewsJharkhandRanchi

झारखंड जगुआर के जवान की ब्रेन मलेरिया से मौत

Ranchi: झारखंड जगुआर के एक जवान उपेंद्र कुमार की ब्रेन मलेरिया से मौत हो गई. जवान पश्चिमी सिंहभूम के मलेरिया प्रभावित आरापीड़ी में तैनात था. वह बीमार होने के बाद 10 दिन पहले ब्रेन मलेरिया की पुष्टि के बाद अग्रवाल नर्सिंग होम में भर्ती हुआ था जहां आज मौत हो गई.

जवान उपेंद्र कुमार मूल रूप से पलामू के लेस्लीगंज थाना क्षेत्र के गुरुआ पोस्ट स्थित ओरिया का रहने वाला था. 18 जुलाई 1997 को जन्मे उपेंद्र ने छह जून 2017 को झारखंड जगुआर में सिपाही के पद पर नौकरी शुरू की थी.

उपेन्द्र कुमार जंगलों में उग्रवादियों के खिलाफ अभियान में शामिल था. इसी दौरान मलेरिया मच्छर के काटने से ब्रेन मलेरिया हो गया था. इलाज के दौरान जवान की मृत्यु हो गई. उसके बाद पार्थिव शरीर को रातू के टेंडरग्राम स्थित झारखंड जगुआर कैंप में ले जाया गया.

advt

झारखंड जगुआर में आईजी ऑपरेशन अमोल बिनुकांत होमकर, डीआईजी अनुप बिरथरे,एसपी शैलेन्द्र कुमार वर्णवाल,संजय किसपोटटा,कर्नल जेके सिंह द्वारा श्रद्धांजलि दी गई. श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद शहीद जवान के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक आवास औरिया लेस्लीगंज भेजा गया.

सुविधाओं की कमी से जूझ रहा जगुआर

जंगलों में उग्रवादियो के खिलाफ अभियान में झारखंड जगुआर के 83 जवान शहीद हो चुके है. जगुआर बहुत सारी समस्याओ से जुझ रहा है. आज जगुआर सुविधाओं की कमी से जूझ रहा है. 2008 में सरकार द्वारा दी गई टूटी-फूटी गाड़ियों से आज भी जवान अभियान में जाते हैं. अभियान से लौटने के बाद पक्के मकान नहीं बल्कि टेंट में रहने को मजबूर हैं. जगुआर परिसर में आज भी जवानों को पानी की समस्या का सामना करना पड रहा है. इतनी मुश्किलों का सामना करने के बाद भी जवान उग्रवादियों से लोहा लेने के लिए हर समय तैयार रहते हैं.

इसे भी पढ़ें – अमन साव गिरोह के चार अपराधियों को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: