न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड हाइकोर्ट ने रांची में लॉ की छात्रा से सामूहिक दुष्‍कर्म मामले में पुलिस को लगायी कड़ी फटकार

299

Ranchi: 26 नवंबर को कांके थाना क्षेत्र स्थित रिंग रोड में लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ दुष्कर्म के मामले में झारखंड हाइकोर्ट ने पुलिस को कड़ी फटकार लगायी है. रांची में लॉ की छात्रा से सामू‍हिक दुष्‍कर्म के मामले में हाइकोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए कहा कि वो इस मामले को डोरंडा रेपकांड जैसा नहीं होने देंगे.

पल-पल की जानकारी ले रहे हैं, लेकिन डीजीपी द्वारा उस क्षेत्र में सतर्कता बरतने का आश्वासन देने के बाद भी टीओपी के पास गोली चलना सवाल खड़ा कर रहा है.

हाइकोर्ट ने सीसीटीवी सहित अन्य सुरक्षा के उपाय करने का निर्देश दिया, इसके लिए हाइकोर्ट ने आइजी, सीआइडी को तलब किया है.

इसे भी पढ़ें – जिस बिरंची नारायण का प्रचार करने जिलाध्यक्ष तक नहीं जा रहे, उसके लिए आ रहे हैं पीएम मोदी

डीजीपी से बोले महाधिवक्ता- जल्द चार्जशीट फाइल कराये, 60 दिनों में दिलायेंगे सजा

झारखंड हाईकोर्ट के महाधिवक्ता अजीत कुमार ने डीजीपी केएन चौबे को पत्र लिख कर कहा कि लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ गैंगरेप के 12 आरोपियों के खिलाफ जांच जल्द पूरी करें. रांची पुलिस जितनी जल्द हो आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल करे.

Mayfair 2-1-2020

महाधिवक्ता ने सोमवार को मीडिया को बताया कि था फॉरेंसिक जांच के लिए सैंपल भेज दिया गया है. एक सप्ताह के अंदर फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट आ जायेगी.

उन्होंने डीजीपी से कहा है कि जितनी जल्दी पुलिस सहयोग करेगी, उतनी ही जल्दी आगे की कार्रवाई होगी. कहा कि चार्जशीट फाइल होते ही स्पीडी ट्रायल चला कर 60 दिन के अंदर गैंगरेप के आरोपियों को सजा दिलायेंगे.

Sport House

इसे भी पढ़ें – रघुवर ने प्रचार समय खत्म होने के बाद भी झंडा-बैनर के साथ निकाली रैली, आयोग ने लिया संज्ञान

26 नवंबर को हुई थी घटना

26 नवंबर को कांके थाना क्षेत्र में लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना हुई थी. घटना के अगले दिन छात्रा थाना पहुंची थी और शिकायत दर्ज करायी थी. इसके बाद पुलिस ने सभी 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था.

रांची महिला लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ हुए गैंगरेप की घटना के बाद राजधानी में प्रदर्शन जारी है.

इसे भी पढ़ें – #Rape जैसी घटनाओं पर ना हो राजनीति- लोकसभा में बोलीं ईरानी, कांग्रेस सदस्यों और केंद्रीय मंत्री के बीच तीखी नोकझोंक

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like