JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

झारखंड हाइकोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

Ranchi : हाइकोर्ट के अधिवक्ता राजीव कुमार की रिमांड अवधि पूरी होने पर बुधवार को कोलकाता बैकशाल कोर्ट में पेश किया गया. अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. राजीव कुमार के अधिवक्ता शंकर मुखर्जी और शुभो बोस ने पैरवी की. दीपंकर कुंडू और संजय प्रसाद सिंह ने कोलकाता पुलिस के तरफ से बतौर सरकारी वकील पैरवी की. 31 जुलाई को कोलकाता में गिरफ्तार राजीव कुमार को पूछताछ के लिए छह दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया था. इस बीच कोलकाता पुलिस रांची स्थित आवास सहित अन्य ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस आधार पर कोलकाता पुलिस ने अतिरिक्त रिमांड अवधि की मांग की थी. कोर्ट ने चार दिन का रिमांड दिया जो बुधवार को समाप्त हुआ. कोलकाता पुलिस का दावा है कि उसने राजीव कुमार पीआइएल को जबरन वसूली के साधन के रूप में इस्तेमाल करके जमा की गयी संपत्ति से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी और सबूत एकत्र किये हैं.

राजीव कुमार के करीबी कई लोगों से होगी पूछताछ

राजीव कुमार मामले में कोलकाता पुलिस कई लोगों से पूछताछ की तैयारी में है. कोलकाता पुलिस ईडी के डिप्टी डायरेक्टर सुबोध कुमार और शिव शंकर शर्मा सहित कई अन्य लोगों से पूछताछ की तैयारी में है. उड़ीसा में तैनात ईडी के डिप्टी डायरेक्टर सुबोध कुमार से कोलकाता पुलिस बीते मंगलवार को पूछताछ करने पहुंची. हालांकि ईडी के डायरेक्टर छुट्टी पर होने के वजह से पूछताछ नहीं हो सकी. 17 अगस्त के बाद कोलकाता पुलिस अब पूछताछ करेगी. वहीं मामले में ईडी भी रांची जोन के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर सुबोध कुमार का बयान दर्ज करेगी. उड़ीसा में तैनात डिप्टी डायरेक्टर सुबोध कुमार को रांची ईडी कार्यालय से तलब किया गया है. बताया जा रहा है कि अधिवक्ता राजीव कुमार मामले की जांच अब ईडी भी कर सकती है. हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी है. रांची में छापेमारी के दौरान बंगाल सीआइडी की टीम को राजीव कुमार के साथ डिप्टी डायरेक्टर सबूत मिले हैं. छापेमारी में एक मोबाइल, एक आइपैड, सात पासबुक, एक चेकबुक, एक डायरी, पीआइएल सहित दो बंडल महत्वपूर्ण दस्तावेज और कुछ जमीन के कागजात मिले थे.

इसे भी पढ़ें – मॉब लिंचिंग मामलाः अलीमुद्दीन हत्याकांड के सजायाफ्ता को फिलहाल राहत नहीं, अब 23 को होगी सुनवाई

Sanjeevani

Related Articles

Back to top button