Education & CareerJharkhandLead NewsRanchi

झारखंड सरकार की दोहरी गाइलाइन: छठी क्लास के बच्चे कर सकते हैं ऑफलाइन क्लास, पर 17 साल के पॉलिटेक्निक छात्र नहीं

Ranchi: झारखंड में छठी कक्षा में पढ़ने वाले 11-12 साल के बच्चे तो स्कूल जाकर क्लास कर रहे हैं पर उम्र में इनसे काफी बड़े और पॉलिटेक्निक, आइटीआइ व स्किल डेवलेपमेंट सेंटर्स में पढ़ने वाले कई छात्र-छात्राओं को ऑफलाइन क्लास करने नहीं दिया जा रहा है. यह स्थिति राज्य सरकार की दोहरी गाइडलाइन के कारण पैदा हुई है.

सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन में पॉलिटेक्निक, आइटीआइ और स्किल डेवलेपमेंट सेंटर्स में ऑफलाइन क्लास की अनुमति देते हुए यह शर्त लगायी गयी है कि छात्र को कोविड वैक्सीन का कम से कम एक डोज लगा होना अनिवार्य है. अब पेच यह है कि इन कोर्सेस में ज्यादातर छात्र मैट्रिक पास करने के तुरंत बाद एडमिशन लेते हैं जिनमें बहुतों की उम्र 18 साल से कम होती है, यानी वे अभी कोरोना का टीका ले ही नहीं सकते.

advt
सरकार की वह गाइडलाइन जिसमें तकनीकी संस्थानों में ऑफलाइन क्लास करने के लिए छात्र का कोविड वैक्सीनेशन अनिवार्य बताया गया है.

इसे भी पढ़ें – खस्सी चोरी के आरोप में पोल से बांधकर युवकों की हो रही थी पिटाई, पुलिस ने बचाया

सरकारी आदेश में इस गलती का नतीजा यह है कि इन संस्थानों में एक ही कोर्स में पढ़ने वाले 18 या ऊपर की आयु के छात्रों का तो ऑफलाइन क्लास हो रहा है पर 18 से कम आयु वालों को सरकारी आदेश का हवाला देकर वापस भेज दिया जा रहा है.

लौटाये जा रहे छात्र इस बात को लेकर परेशान हैं कि उनकी पढ़ाई पीछे रह जायेगी. वहीं शिक्षक चिंतित हैं कि क्लास से वंचित छात्रों को पढ़ाने-सिखाने के लिए उन्हें दोबारा मेहनत करनी पड़ेगी. इधर अभिभवावक अपने बच्चों के भविष्य को लेकर चिंतित हैं.

इसे भी पढ़ें – पलामू : तेजस्वी यादव का केंद्र पर हमला, ‘महंगाई अब भाजपा की महबूबा हो गयी है’

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: