JharkhandRanchi

कोरोना से संक्रमित पुलिसकर्मियों के लिए झारखंड सरकार ने जारी किया 33 लाख

Ranchi: कोरोना महामारी की इस आपदा में बचाव के लिए झारखंड पुलिस लगी हुई है.आम जनता को जागरूक करने के साथ-साथ राज्य की विधि-व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस लगी हुई है. पुलिस का कार्य काफी जोखिम भरा है.

अपराधियों के अतिरिक्त कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के साथ भी पुलिसकर्मी सीधे शारीरिक रूप से सम्पर्क में आते हैं. जिससे पुलिसकर्मियों के संक्रमित होने से इनकार नहीं किया जा सकता है. ऐसे में झारखंड सरकार के स्तर से राज्य के सभी जिलों के एसपी को इसके बचाव एवं निजी अभिरक्षा उपकरण की खरीद के लिए 33 लाख रुपया आवंटित किया गया है.

advt

66 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं

झारखण्ड अब तक में कुल 66 पुलिस पदाधिकारी/कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. इनमें डीएसपी रैंक के 01 पदाधिकारी, इंस्पेक्टर रैंक के 01 पदाधिकारी, एसआई रैंक के 05 पदाधिकारी, एएसआई रैंक के 09 पदाधिकारी, हवलदार-06, आरक्षी/चालक-32, चतुर्थवर्गीय कर्मचारी-01 और 07 होमगार्ड संक्रमित हैं. इसके अलावा 04 पुलिस पदाधिकारी/कर्मी स्वस्थ हो चुके हैं.

मुख्यालय स्तर कोरोना महामारी से बचाव हेतु दिये गये दिशा-निर्देश

पुलिस मुख्यालय स्तर से राज्य के पुलिस पदाधिकारियों/कर्मियों को विधि-व्यवस्था ड्यूटी करते हुए एवं साथ ही कोरोना महामारी से बचाव हेतु सभी आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये हैं. बचाव के लिये सभी पुलिसकर्मी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क पहननकर ड्यूटी करने, सेनिटाइजर का उपयोग करने, हैंड ग्लब्स पहनने, सर्जिकल कैप लगाने, समय-समय पर कार्यालय, आवासीय स्थल व वाहनो को सेनिटाइज करने, अनावश्यक रूप से चेहरा छूने से बचने की सलाह भी दी गई है.

ये भी पढ़ें- कई कांडों में वांछित माओवादी तूफान को गिरिडीह पुलिस ने किया गिरफ्तार

अभियुक्तों की गिरफ्तारी के वक्त अथवा जेल ले जाते वक्त भी पूरी सावधानी बरतने का निर्देश दिया गया है. आम जनता की शिकायतों के लिए सिटीजन पोर्टल के माध्यम से एवं व्हाट्सएप के माध्यम से शिकायत सुनकर समाधान करने की कार्रवाई की जा रही है. छुट्टी से लौटे पदाधिकारी एवं पुलिसकर्मियों को 14 दिनों के लिए क्वॉरंटीन किये जाने का निर्देश दिया गया है एवं उनका कोरोना जांच कराकर स्वस्थ होने की स्थिति में ही उनसे ड्यूटी लिये जाने का निर्देश दिया गया है.

डीजीपी के द्वारा दिए 9 बिन्दुओं किया जा रहा है पालन

डीजीपी एमवी राव के द्वारा राज्य के सभी रेंज के डीआईजी, जिले के एसएसपी, एसपी और सभी वाहनियों के कमांडेंट कई आदेश दिए गया है. जिनमें सभी अनुष्ठानों के निरीक्षण, पुलिसकर्मियों एवं पुलिस पदाधिकारियों के द्वारा स्थानांतरण संबंधी समर्पित अभ्यावेदनों का विधिवत संचालन, सर्विस बुक को तत्परतापूर्वक समावेशित किये जाने, लंबित विभागीय कार्रवाईयों का निष्पादन, पुलिसकर्मियों के विरूद्ध शिकायतों का त्वरित निष्पादन, निलंबन की समीक्षा एवं उसका निराकरण, कनीय पुलिसकर्मियों की समस्याओं का निदान एवं कल्याणकारी पहलू एवं पांच वर्षों से अधिक समय से लंबित कांडों का चरणवार निष्पादन करने का निर्देश दिया गया है. इसका लगातार अनुश्रवण किया जा रहा है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: