JharkhandKhuntiLead NewsRanchi

जनजातीय मंत्रालय के कार्यक्रम का झारखंड सरकार ने किया बहिष्कार, बताया सीएम हेमंत का अपमान

Ranchi/Khunti : खूंटी में जनजातीय मंत्रालय की पहल पर रविवार को मेगा हेल्थ कैंप लगाया गया है.स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता भी इस प्रोग्राम में आमंत्रित थे. पर बन्ना ने इस मेगा हेल्थ कैंप का बहिष्कार कर दिया. मंत्री जब खूंटी पहुंचे तो शहर व कार्यक्रम स्थल में लगे पोस्टरों को देखकर भड़क गये. वापस रांची लौटने से पहले खूंटी परिसदन भवन में कहा कि केंद्र सरकार और जिला प्रशासन द्वारा सोची समझी साजिश के तहत राज्य सरकार का अपमान किया जा रहा है. जिला प्रशासन ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का अपमान किया है.

इसे भी पढ़ें: Kandra Accident : कांड्रा टोल ब्रिज के पास टेंपो पलटा, चालक घायल; हालत गंभीर

यह बर्दाश्त के लायक नहीं है. मुख्यमंत्री को शिष्टाचार के तौर पर भी आमंत्रित करना चाहिए था. उनका आना, नहीं आना, उनकी मर्जी होती. मंच पर उनकी तस्वीर भी नहीं है और न ही उनका नाम है. राज्य में जो सरकार होती है, वो एक दूसरे से संयुक्त रूप से काम करती है. बन्ना ने कहा कि वे इस मेगा कैंप के विरोधी नहीं हैं. कैंप का होना अच्छा है, लेकिन राज्य के मुख्यमंत्री की एक तस्वीर न होना सही नहीं है. ये राज्यहित में भी नहीं है और जनहित में भी नहीं है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

बिरसा मुंडा कालेज में लगाये इस कैंप में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, पद्मभूषण से सम्मानित कड़िया मुंडा, राज्यपाल रमेश बैस, विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा, कोचे मुंडा सहित अन्य भी शामिल हैं.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

राज्य सरकार का था सहयोग

बन्ना गुप्ता के मुताबिक मेगा कैंप के लिए झारखंड सरकार ने अपने पूरे संसाधन को इस काम में लगा दिया है. सब तरफ के डॉक्टर को हमने भेजा है. केंद्र सरकार की एजेंसियों के साथ तालमेल से तैयारियां की लेकिन राज्य के मुख्यमंत्री का अपमान किया जा रहा है. यहां इतनी घटिया राजनीति देखने को मिली. इसका पता होता तो हम जैसे लोग ऐसे कार्यक्रमों में भाग नहीं लेते. अगर पहले बता दिया जाता तो वे कभी इस कार्यक्रम में जमशेदपुर से खूंटी नहीं आते. केंद्र सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री को नजरअंदाज करके उनका अपमान करके राज्य की व्यवस्थाओं को मजबूती से लागू नहीं कर सकते.

इसे भी पढ़ें: Human Trafficking : झामुमो व‍िधायक सुखराम उरांव को सताने लगी मानव तस्करी की च‍िंता, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लिखा पत्र

मेगा हेल्थ कैंप है खास

केंद्र की ओर से अबुआ बुगिन स्वास्थ्य मेला (हमारा बेहतर स्वास्थ्य) का आयोजन किया गया है. यहां देश भर से 400 डॉक्टर पहुंचे हैं. इनमें अर्जुन मुंडा के बेटे डॉक्टर अभिषेक सिंह मुंडा भी शामिल हैं. वे अभी सर गंगा राम अस्पताल के सीनियर डॉक्टर हैं. इनके अलावा झारखंड और देश के जाने माने डॉक्टर भी आये हुए हैं. 60 हजार मरीजों की जांच हो रही है. इस मेगा हेल्थ कैंप में 1200 से अधिक वोलेंटियर सहयोग दे रहे हैं.

Related Articles

Back to top button