न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दिल्ली में मजदूरी मांगने पर झारखंड की बेटी को मार कर टुकड़े-टुकड़े काट डाला

पांच माह बाद खुला राज, दिल्ली पुलिस ने अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

245

Ranchi : महानगरों में झारखंड की बेटियों के साथ हो रहे अत्याचार का एक औऱ मामला सामने अाया है. मजदूरी मांगने पर झारखंड की एक बेटी को टुकड़े-टुकड़े काट कर मार डाला गया. पांच माह बाद इस कत्ल के मामले का खुलासा हुअा है. दिल्ली पुलिस ने कत्ल का राज खोलते हुए मास्टर माइंड महिला समेत अन्य को गिरफ्तार किया है. महानगरों तक पहुंचनेवाली झारखंड की युवतियों के साथ हो रही बदसलूकी पर राज्य सरकार की चुप्पी भी समझ से परे है. झारखंड की बेटी के साथ हुए दरिंदगी मामले को दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमीशनर ऑफ पुलिस (स्पेशल सेल) संजय यादव की देखरेख में पटाक्षेप कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें- पलामू : चैनपुर के चांदो में स्थिति नियंत्रण में, सड़कों पर सन्नाटा

पांच महीने पहले की है घटना

घटना पांच महीने पहले की है, जिसमें झारखंड की रहनेवाली एक 16 वर्षीय युवती का मर्डर कर आरोपियों ने उसके शरीर के कई टुकड़े कर विभिन्न जगहों में फेंक दिया था. पश्चिमी दिल्ली की दहला देनेवाली घटना में शामिल मुख्य आरोपी महिला गौरी को पुलिस ने  हरियाणा से पकड़ा है. इसकी गिरफ्तारी पर दिल्ली पुलिस की टीम को 50 हजार रुपये का पुरस्कार भी मिला है. डीसीपी यादव के अनुसार झारखंड के रहनेवाले मंजीत केरकेट्टा की गिरफ्तारी के बाद पूरे मामले का पटाक्षेप हुआ. मंजीत की निशानदेही पर दिल्ली पुलिस की टीम पश्चिम बंगाल के वीरभूम भी गयी.

इसे भी पढ़ें- गोमिया के छात्र की बोकारो के तुपकाडीह में हत्या, जांच में जुटी पुलिस

पैसा मांगने पर घटना को दिया गया अंजाम 

वहां से गौरी के घर पर मिले सुराग के बाद हरियाणा से उसकी गिरफ्तारी संभव हो पायी. गिरफ्तार गौरी ने बताया कि वह एक प्लेसमेंट एजेंसी चलाती थी, जहां झारखंड, बंगाल और अन्य जगहों की युवतियां काम के लिए आती थी. जिस युवती का मर्डर हुआ है, वह भी प्लेसमेंट एजेंसी में काम करती थी. यह एजेंसी दिल्ली के ज्वालापुरी इलाके में अवस्थित था, जो मियावाली नगर में है. चार मई 2018 को घटना को अंजाम दिया गया. इसके बाद मंजीत केरकेट्टा और गौरी फरार हो गये थे. पुलिस का कहना है कि पूरे प्रकरण में यह भी पता चला कि गौरी वीरभूम से भाग कर हरियाणा के किसी इलाके में रह रही थी, जहां उसने एक दिव्यांग से विवाह भी कर लिया था. जिस युवती का कत्ल किया गया, वह एजेंसी में एक वर्ष तक काम करती रही. पैसा मांगने पर घटना को अंजाम दिया गया.

इसे भी पढ़ें- मंत्री जी के कॉलेज में फेल हो रहे हैं छात्र, पैसाें की वसूली के लिए छात्रों को किया जाता है फेल

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर रघुवर सरकार को कटघरे में किया खड़ा

पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रघुवर दास सरकार को कटघरे में खड़ा किया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली और अन्य महानगरों में रोजगार देने के नाम पर झारखंड के बेटी-बेटों के साथ धोखाधड़ी हो रही है. यहां तक कत्लेआम भी हो रहा है. जो शर्मनाक है. उन्होंने कहा है कि नौकरी देने का ढिंढोरा पीटनेवाली सरकार को यह दिख नहीं रहा है, जो काफी शर्मनाक है.

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: