JharkhandLead NewsRanchi

झारखंड : CM हेमंत सोरेन ने नितिन गडकरी से बासुकीनाथ-दुमका और डुमरी-देवघर रोड को फोरलेन करने का किया आग्रह

Ranchi : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से बासुकीनाथ से दुमका और डुमरी से देवघर सड़क को फोरलेन में परिवर्तित करने की मंजूरी देने का आग्रह किया है. सीएम ने इस संबंध में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखा है. सीएम ने कहा कि राज्य की सड़क व्यवस्था को सृढृढ़ करने में केंद्रीय मंत्री गडकरी जी का हमें हमेशा साथ मिला है. सीएम ने कहा है कि पर्यटन की दृष्टि से भी यह रोड काफी महत्वपूर्ण है. श्रावणी मेला के समय लाखों श्रद्वालु यहां आते हैं.

बता दें कि, नेशनल हाइवे 114ए के तहत बासुकीनाथ से दुमका की सड़क को चार लेन बनाने का प्रस्ताव नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने तैयार किया था. करीब 950 करोड़ की योजना का डीपीआर तैयार किया गया था. 45 किमी लंबी इस रोड निर्माण की मंजूरी के लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजा गया है.

इंजीनियरों ने बताया कि इस माह के अंत तक मंजूरी मिलेगी. जुलाई माह में इसको लेकर टेंडर जारी किया जायेगा. अगस्त तक सारी प्रक्रिया पूरी कर संवेदक को एलओए जारी कर दिया जायेगा.

ram janam hospital
Catalyst IAS

वहीं, डुमरी-देवघर रोड निर्माण का भी प्रस्ताव अभी बन रहा है. राज्य सरकार ने इसे भी फोरलेन करने का अनुरोध केंद्र से किया है.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें:BIG NEWS : हंगामे के बाद रांची शहरी क्षेत्र में लगा कर्फ्यू

सड़कों का नवीनीकर जरूरी है

मुख्यमंत्री ने कहा है कि धार्मिक स्थल की ओर जाने वाली सड़कें अच्छी होनी चाहिए. श्रावण मास के दौरान श्रद्धालु नंगे पैर लंबी दूरी तय कर देवघर आते हैं. श्रावणी मेला के दौरान श्रद्धालुओं के सुचारू एवं निर्बाध आवागमन के लिए देवघर एवं आसपास के क्षेत्र की सभी सड़कों की मरम्मत राज्य द्वारा अपने बजटीय संसाधनों से की जा रही है.

देवघर से बासुकीनाथ मंदिर जाते हैं, जो देवघर से 40 किमी दूर है. ये दोनों स्थान एनएच 114 ए से जुड़े हैं, जिसकी स्थिति जर्जर है. एनएच 114 ए के किमी 68.5 (टॉवर चौक, दुमका) से किमी 87.53 (बासुकीनाथ) तक की दो लेन सड़क को चौड़ा और मजबूत करने के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा स्वीकृत किया गया है.

नवंबर 2021 में ठेकेदार को काम सौंपा गया था, लेकिन, ठेकेदार द्वारा संसाधन नहीं जुटा पाने के कारण कार्य को मार्च 2022 में रोक दिया गया. मरम्मत के अभाव में सड़क की हालत बद से बदतर हो गई है.

वर्तमान सड़क की स्थिति और श्रावणी मेले के आलोक में राज्य सरकार के पास सड़क सुधार के लिए राज्य निधि के माध्यम से आवश्यक मरम्मत कार्य करवाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

इसे भी पढ़ें:BIG BREAKING : नुपुर शर्मा के बयान का विरोध करने के लिए मेन रोड में जुटे प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज, फायरिंग

रोड कॉरिडोर के रूप में विकसित किया जा सकता है

मुख्यमंत्री ने कहा कि देवघर से बासुकीनाथ का काम एनएचएआई द्वारा फोरलेन की प्रक्रिया में है. मुख्यमंत्री ने आग्रह पूर्वक कहा है कि बासुकीनाथ से दुमका तक की वर्तमान अनुशंसित दो लेन सड़क को फोरलेन रोड कॉरिडोर के रूप में विकसित किया जा सकता है.

साथ ही उन्होंने आग्रह किया कि रांची से देवघर तक यातायात के प्रवाह को आसान बनाने के लिए डुमरी (एनएच-02 पर) से देवघर तक की सड़क को फोर लेने के रूप में विकसित किया जा सकता है. राज्य सरकार इसके लिए सभी तरह का सहयोग करने को तत्पर है.

इसे भी पढ़ें:RANCHI : एसएसपी, सिटी एसपी और डेली मार्केट के थानेदार घायल

Related Articles

Back to top button