Budget 2021JharkhandLead NewsNEWSRanchiTOP SLIDER

Jharkhand Budget Session: सरयू राय ने सदन में पूछा कौन है वैद्यनाथ प्रसाद, 2 महीने में बताएगी सरकार

वैद्यनाथ प्रसाद पर विशेष शाखा के कार्यालय में अनधिकृत गतिविधियां संचालित करने का है आरोप

Ranchi: झारखंड विधानसभा में जारी बजट सत्र के दौरान सोमवार को विधायक सरयू राय ने सरकार से पूछा है कि सरकार बताए कि वैद्यनाथ प्रसाद कौन है. जिनपर 2015 से 2019 के बीच झारखंड पुलिस की विशेष शाखा से अनधिकृत गतिविधियां संचालित करने का आरोप है. इन्हें तमाम सरकारी सुविधाएं मुहैया करायी जाती रही. ऐसा कैसे हो सकता है कि विशेष शाखा के आवास कोई गैर सरकारी व्यक्ति आवासित हो जाये.

 

सरकार ने जवाब में माना है कि विशेष शाखा को दो आवास आवंटित था, एक में एक गैर सरकारी व्यक्ति रह रहा था. साथ सरकार की ओर से कहा गया कि किसी तरह के अनधिकृत गतिविधियों के संचालन का प्रमाण नहीं मिले हैं. साथ ही माना है कि सरकारी सुविधा के उपयोग के तथ्य मिले हैं जिसकी जांच की जा रही है. मंत्री रामेश्वर उरांव ने जवाव दिया कि 2 महीने में जांच कर सरकार बताएगी कि वह व्यक्ति कौन था. इसपर सरयू राय ने कहा कि व्यक्ति का नाम वैद्यनाथ प्रसाद है. जिसे डीएसपी समेत तीन बॉडीगार्ड मुहैया कराया गया था. सभी के बयान दर्ज हैं.

advt

 

अगर पुलिस अवैध गतिविधि संचालित करेगी तो प्रतिष्ठा का सवाल

सरयू राय ने कहा कि अगर पुलिस अवैध गतिविधि चलाएगी तो राज्य की जनता का भरोसा सरकार से उठ जाएगा. सरकार की प्रतिष्ठा पर असर पड़ता है. उन्होंने मांग की है कि इस मामले की जांच पुलिस विभाग से बाहर के लोगों से करायी जाये. पुलिस विभाग ने जांच कराने पर सही रिपोर्ट की उम्मीद कम है.

हेडफोन लगाकर हैलो-हैलो करने लगे संसदीय कार्य मंत्री

विधानसभा में अल्पसूचित प्रश्नकाल के दौरान सदन में जवाब देते हुए मंत्री को लगा कि वे फ़ोन पर बात कर रहे हैं. हेडफोन लगाया और हैलो-हैलो करने लगे. जब ध्यान आया कि वे सदन में हैं तो स्पीकर से सॉरी भी बोल दिया. सदन में हो रहे हंगामे के दौरान जब वह प्रश्न ठीक से सुन नहीं पा रहे थे, तब वह हेडफोन लगाने लगे. इस दौरान संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम यह भूल गए कि वह मोबाइल फोन नहीं बल्कि हेडफ़ोन उठाये हैं और वह हैलो-हैलो बोलने लगे. तुरंत उन्हें एहसास हुआ कि वह भूलवश गलती कर बैठे हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: