JharkhandLead NewsRanchi

लॉबीन की अध्यक्षता में बनी ‘झारखंड बचाओ मोर्चा’, अब एक मंच से होगा आंदोलन

Ranchi: झारखंड की राजधानी रांची स्थित पुरानी विधानसभा में बोरियो विधायक लोबिन हेंब्रम की अध्यक्षता में 7 अगस्‍त को बैठक हुई. इसमें झारखंड के पांचों प्रमंडलों से क्रांतिकारी अगुआ शामिल हुए. बैठक में खतियान आधारित स्थानीय नीति, नियोजन नीति, पेसा कानून लागू करने, सीएनटी/एसपीटी को सख्ती से लागू करने, बाहरी भाषा के विरोध जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई. साथ ही सर्वसम्मति से निर्णय हुआ कि‍ सभी आदिवासी-मूलवासी सामाजिक संगठन ‘झारखंड बचाओ मोर्चा’ का गठन किया गया. इसके बैनर तले आंदोलन करेंगे.

सरकार में नहीं सुनी जा रही इसलिए मोर्चा का गठन करना पड़ा: लॉबीन

झामुमो विधायक लॉबीन हेंब्रम ने कहा कि स्थानीय नीति, नियोजन नीति, पेसा कानून लागू करने, सीएनटी/एसपीटी मामले पर हमारी नहीं सुनी जा रही है. इसीलिए अब सारे लोग एक मंच पर आकर विरोध करेंगे.

सभी मोर्चा के प्रमुख इस मोर्चा के संयोजक होंगे :

Sanjeevani

सभी आदिवासी मूलवासी संगठनों के प्रमुख इस मोर्चा के संयोजक होंगे. मोर्चा के मुख्य संयोजक विधायक लोबिन हेंब्रम होंगे. झारखंड बचाओ मोर्चा के प्रवक्ता के रूप में अजय टोप्पो और प्रेम शाही मुंडा अधिकृत होंगे. निर्णय लिया गया कि‍ पांचों प्रमंडलों में जल्द सम्मेलन किया जाएगा. कोल्हान के चाईबासा में 21 अगस्त और दक्षिणी छोटानागपुर के रांची में 11 सितंबर को होगा.

बैठक में इनकी रही उपस्थिति

बैठक में कोल्हान, संथाल, दक्षिणी छोटानागपुर, उत्तरी छोटानागपुर के मुख्य रूप से पूर्व विधायक मंगल सिंह बोबोंगा, नरेश मुर्मू, पूर्व सांसद चित्रसेन सिंकु, दुर्गा प्रसाद जमुदा, पूर्व मंत्री गीताश्री उरांव, राजू महती, निरंजना हेरेंज टोप्पो, सुशांतो मुखर्जी, विश्वजीत सहदेव, मार्शल बारा, प्रेमचंद मुर्मू, कुमकुम केरकेट्टा, लक्ष्मीनारायण मुंडा, एलएम उरांव सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे.

Related Articles

Back to top button