JharkhandLead NewsRanchi

झारखंड : फिर से अपनी ही सरकार के खिलाफ कांग्रेस विधायकों में रोष, विधायक दल की बैठक में निकाली भड़ास

Ranchi : कांग्रेसी विधायक राज्य सरकार के कामकाज से निराश हैं. विधानसभा परिसर में सोमवार को हुई विधायक दल की बैठक में यह नजारा देखने को मिला. विधायक दल के नेता और मंत्री आलमगीर आलम की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई विधायकों ने अपना रोया. कहा कि सरकारी कार्यक्रमों में उन्हें वाजिब तरीके से आमंत्रण और सम्मान नहीं मिल रहा है. सरकार को अपनी कार्यशैली सुधारनी चाहिये. वैसे इस बैठक में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर भी चर्चा हुई. पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा की जीत की संभावनाओं को लेकर विचार विमर्श हुआ.

बैठक के बाद प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने बताया कि पार्टी विधायकों में सरकार के कार्यों को लेकर थोड़ी नाराजगी है. विधायकों ने अपने-अपने स्तर से मुद्दों को लेकर बातें रखीं. प्रखंडों में सीएचसी और पीएचसी को भी दुरुस्त करने को कहा है. पानी-बिजली व्यवस्था को भी सुचारू रखने संबंधी मासलों पर भी बातें रखीं.

बैठक में कांग्रेस के मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव, बादल पत्रलेख, बन्ना गुप्ता, विधायक दीपिका पांडे सिंह, ममता देवी, अंबा प्रसाद, राजेश कच्छप, विक्सल कोंगाड़ी व शिल्पी नेहा तिर्की शामिल थीं. बैठक से पूर्व मांडर से कांग्रेस की नवनिर्वाचित विधायक शिल्पी नेहा तिर्की ने स्पीकर के समक्ष शपथ ग्रहण किया था.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढे़ं:नागालैंड में होने वाले विधानसभा चुनाव में अकेले दम दिखाएगी JDU, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने किया ऐलान

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

यशवंत सिन्हा की जीत को लेकर की चर्चा, 6 या 7 को आ सकते हैं रांची

बैठक के बाद आलमगीर आलम ने बताया कि यह विधायकों की औपचारिक बैठक थी. इसमें राष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा हुई. इसके अलावा अगामी मानसून सत्र में पार्टी की रणनीति क्या होगी, इसपर विस्तार से बातें हुई हैं.
जानकारी के अनुसार विपक्ष के साझा राष्ट्रपति प्रत्याशी यशवंत सिन्हा आगामी 6 या 7 जुलाई को रांची आ सकते हैं.

इस दौरान वे यूपीए के घटक दलों के विधायकों से समर्थन की अपील करेंगे. प्रदेश कांग्रेस के उच्च पदस्थ पदाधिकारियों के अनुसार प्रदेश कांग्रेस के नेता उनके दौरे को लेकर तैयारी भी कर रहे हैं. 6 और 7 जुलाई को कांग्रेस के सांसद-विधायकों की राजधानी में रहने का निर्देश दिया गया है.

इसे भी पढे़ं:धनबाद: मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में सख्ती, लोगों के काले कपड़े, छाते तक उतरवा लिए

Related Articles

Back to top button