JharkhandRanchi

15 नवंबर को पूरे राज्य में उपवास करेंगे झारखंड आंदोलनकारी

Ranchi : झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा के तत्वावधान में राज्य स्थापना दिवस व भगवान बिरसा मुंडा की जयंती के अवसर पर 15 नवंबर को झारखंड आंदोलनकारी एकदिवसीय उपवास करेंगे.

झारखंड आंदोलनकारी अपने-अपने जिलों व प्रखंडों में महापुरुषों की प्रतिमा के समक्ष उपवास करेंगे और आंदोलनकारियों के मान-सम्मान, पहचान, पेंशन एवं सभी राजकीय सुविधाएं दिलाने का संकल्प लेंगे. उपवास कार्यक्रम को लेकर प्रखंड एवं जिलों में तैयारियां पूरी हो चुकी है. बैनर, पोस्टर वगैरह भी तैयार कर चुके हैं.

इसे भी पढ़ें :राज्य के 1260 स्कूलों के प्राचार्यों पर गिरेगी गाज, वेतन वृद्धि पर रोक के साथ अनिवार्य सेवानिवृत्ति भी संभव

Catalyst IAS
ram janam hospital

इस उपवास कार्यक्रम के आरंभ में लोहरदगा के सुका टाना भगत, तलत महमूद, बोकारो के राजेंद्र महतो, रांची के वसीर अहमद, गुमला की निर्मला सिन्हा एवं गिरिडीह के अखिल चंद्र महतो के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुए 2 मिनट का मौन धारण किया जायेगा. कार्यक्रम के बाद प्रखंड एवं जिला स्तर से झारखंड आंदोलनकारी अपने 14 सूत्री मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम पत्र प्रेषित करेंगे.

The Royal’s
Sanjeevani

झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा के प्रधान महासचिव अजीत मिंज ने कहा है कि यह विडबंना है कि झारखंड आंदोलनकारी आज मिट रहे हैं. उन्होंने कहा कि झारखंड आंदोलनकारियों को आज कठिन चुनौतियों का सामना करते हुए भी अपने मान-सम्मान, पहचान, पेंशन एवं सभी राजकीय सुविधाओं के लिए संघर्ष करना है.

इसे भी पढ़ें :NEET 2020: 19 को जारी होगा फाइनल मेरिट लिस्ट, राज्य के 6 मेडिकल कॉलेजों की 680 सीटों पर होना है एडमिशन

Related Articles

Back to top button