JharkhandRanchi

#Jharkhand: बायोमेट्रिक अटेंडेंस नहीं बनाने वाले शिक्षकों पर होगी कार्रवाई

Ranchi: झारखंड शिक्षा परियोजना निदेशक उमाशंकर सिंह ने सभी जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारियों को पत्र लिखा है.

इस पत्र में उन्होंने लिखा है कि परियोजना को यह शिकायत मिली है कि राज्य के स्कूलों के शिक्षक ई विद्या वाहिनी के तहत बनाये जाने वाले बायोमेट्रिक अटेंडेंस में गड़बड़ी कर रहे हैं.

वे अपने मोबाइल के समय और तारीख में परिवर्तन कर अटेंडेंस में हेरफेर कर रहे हैं. शिक्षकों के द्वारा किया जा रहा काम गंभीर और दंडनीय है. विभाग ऐसे शिक्षकों को चिन्हित कर उन पर कार्रवाई करने जा रही है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : मार्च में ही स्कूलों को किताबें मिलने की उम्मीद, जेसीईआरटी कर रहा तैयारी

टेबलेट का उपयोग करें

उन्होंने अपने पत्र में यह भी निर्देश दिया है कि जिन विद्यालयों को विभाग द्वारा टेबलेट उपलब्ध कराया गया है उन विद्यालयों के शिक्षक उसी टेबलेट से विद्यालय कैंपस में ही प्रतिदिन उपस्थिति दर्ज करेंगे.

वह इसे अनिवार्य रूप से लेंगे. इसके अतिरिक्त यदि टेबलेट में कोई तकनीकी खराबी आती है तो विद्यालय अनुदान की राशि से उसे तुरंत ठीक कराया जाये.

मरम्मती के बाद टेबलेट यदि काम ना कर रहा हो और उसमें से मोबाइल डिवाइस मैनेजमेंट सिस्टम हट जाता है तो विद्यालय इसकी लिखित सूचना तुरंत जिला कार्यालय को दें.

इसे भी पढ़ें : कांके डैम के आस-पास की जमीन पर हो रहे निर्माण पर हाइकोर्ट की रोक, अतिक्रमण करने वालों की लिस्ट मांगी

टेबलेट खराब होने पर शीघ्र मरम्मत करायें

जिला कार्यालय राज्य कार्यालय से कोऑर्डिनेट कर उस टेबलेट में मोबाइल डिवाइस मैनेजमेंट सिस्टम को इंस्टॉल करेगा.

वहीं जिन विद्यालयों को विभाग द्वारा अब तक टेबलेट नहीं दिया गया है वहां के शिक्षक अपने मोबाइल का डेट और टाइम को ऑटोमेटिक मोड में रखते हुए बायोमैट्रिक सिस्टम से ही अपना अटेंडेंस बनायेंगे.

इसके बाद भी यदि कोई शिक्षक बायोमेट्रिक उपस्थिति में छेड़छाड़ करते हुए पकड़े जाते हैं तो इसे गंभीर मामला मानते हुए उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह : पोक्सो कोर्ट ने नाबालिग का अपहरण-दुष्कर्म करने के दो आरोपियों को 10-10 साल की सजा सुनायी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button